VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Wednesday 25th of April 2018 | आसाराम समेत तीन आरोपी दोषी करार

रेप मामले में आसाराम दोषी करार, आज हो सकती है सजा


नाबालिग से रेप के मामले में जोधपुर कोर्ट ने स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम को दोषी करार दिया है. आसाराम के साथ दो अन्य सहयोगी शिल्पा और शरद को भी आज कोर्ट ने दोषी ठहराया. वहीं शिवा और प्रकाश को कोर्ट ने बरी कर दिया. शिवा और प्रकाश जमानत पर थे लेकिन जमानती ना मिलने के कारण प्रकाश आसाराम की सेवा के लिए जेल में ही रुका था. आज सुबह ही सुनवाई के लिए शिवा जेल के अंदर पहुंचा था. जानकारी के मुताबिक, जिस वक्त जज ने फैसला सुनाया उस वक्त आसाराम हरिओम-हरिओम का जाप कर रहा था.

आसाराम समेत बाकी दोषियों पर अभी सजा का ऐलान नहीं हुआ है। माना जा रहा है कि आसाराम को कम से कम 10 साल की सजा हो सकती है। आसाराम को दोषी करार दिये जाने के बाद पीड़िता के पिता ने कहा कि, ‘आसाराम दोषी करार दिए गए। हमें इंसाफ मिला है। इस लड़ाई में हमारा साथ देने वाले सभी लोगों को हम धन्यवाद करते हैं।’ वहीं आसाराम की प्रवक्ता ने कहा कि हम आगे की कार्रवाई के लिए अपने लीगल टीम से चर्चा कर रहे हैं, हमें अपनी न्याय व्यवस्था पर पूरा विश्वास है।

इससे पहले जोधपुर कोर्ट पर सबकी निगाहे लगी हुई थीं। पीड़िता व उसके परिजन जहां आसाराम को कड़ी से कड़ी सजा की उम्मीद कर रहे थे। वहीं इस आध्यात्मिक गुरु के समर्थक उसके बरी होने की उम्मीद में थे। गुजरात के अहमदाबाद स्थित आसाराम आश्रम में भक्त अपने बापू मंगलवार से ही हवन कर रहे थे। जोधपुर कोर्ट में सुनवाई का समय सुबह साढ़े आठ बजे तय किया गया था। तय समय से सुनवाई शुरू हुई। फैसले को लेकर आसाराम के समर्थक कहीं उपद्रव ना शुरू कर दें इसे देखते हुए जोधपुर शहर को किले में तब्दील कर दिया गया है।


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL