VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Saturday 28th of April 2018 | रिपोर्ट सही साबित करने के लिए , डॉक्टर ने काट दिया गुप्तांग

डॉक्टर ने कहा लड़की होगी, लड़का हुआ तो काट दिया बच्चे का प्राइवेट पार्ट


देश के झारखंड से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, दरअसल झारखंड में चतरा जिले में एक डॉक्टर ने मानवीयता की हदें पार करते हुए एक नवजात का प्राइवेट पार्ट सिर्फ इसलिए काट डाला, ताकि वह अपने क्लीनिक में हुए अल्ट्रासाउंड की रिपोर्ट को सही साबित कर सके. इसके चलते नवजात की मौत हो गई. बच्चे के माता पिता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.हलाकि पुलिस द्वारा आरोपी डॉक्टर को अभी तक नही पकड़ा गया है. डॉक्टर अभी फरार बताया जा रहा है.

नवजात के पिता अनिल पांडा के मुताबिक उनकी पत्नी आठ माह की गर्भवती थी और मंगलवार रात प्रसव पीड़ा होने के बाद उसे इटखोरी पुलिस थाना क्षेत्र के तहत आने वाले नर्सिंग होम ले जाया गया। यह नर्सिंग होम अरुण कुमार नामक व्यक्ति चलाता है।

पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ दो FIR दर्ज किए हैं. पहली एफआईआर नवजात के पिता की शिकायत पर और दूसरी एफआईआर स्व संज्ञान से लिंग निर्धारण टेस्ट करने के लिए दर्ज की गई है.पुलिस की जांच के अनुसार आरोपी डॉक्टर फर्जी है और नवजात का कोई अल्ट्रासाउंड किया ही नहीं गया था. पुलिस ने फिलहाल क्लीनिक को सील कर दिया है.

बीते मंगलवार की रात अनिल पांडा की पत्नी को लेबर पेन उठने के बाद इटखोरी में डॉक्टर अनुज कुमार के क्लीनिक में भर्ती करवाया गया था. ऑपरेशन से पहले मां का अल्ट्रासाउंड किया गया, जिसमें बताया गया कि गर्भ में पल रहा बच्चा लड़की थी.लेकिन कुछ ही घंटे बाद जब मां ने बच्चे को जन्म दिया तो वह लड़का निकला. डॉक्टर ने अपने क्लीनिक की अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट को सही साबित करने के लिए नवजात का प्राइवेट पार्ट ही काट डाला, जिसके बहुत ज्यादा खून बहने से होने से बच्चे की मौत हो गई.

 


खड़गे की पीएम मोदी को चिट्ठी, कहा- सार्वजनिक करें कागजात

निर्दलीय उम्मीदवार ने लिया समर्थन वापस, संकट में कुमारस्वामी सरकार


 VT PADTAL