VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Monday 7th of May 2018 | कर्ज का बोझ नहीं झेल पाया किसान

बेटे को भी रखा था गिरवी, लेकिन अंत में रास्ता आत्महत्या


मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में किसान आत्महत्या का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने सरकार पर कई सवाल खड़े किये हैं. मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में 3 दिन पहले किसान कारकुंड कोंडू ने जहरीला पदार्थ सेवन करके आत्महत्या कर ली थी. अब उसकी दर्दनाक कहानी सामने आई है. बताया जा रहा है कि वो कर्ज के बोझ तले बुरी तरह दब चुका था. कर्ज से उबरने के लिए किसान कारकुंड कोंडू ने अपने बेटे तक को गिरवी (बंधुआ) रख दिया परंतु फिर भी जब कुछ नहीं हुआ तो अंतत: निराश किसान ने आत्महत्या कर ली. आत्महत्या के बाद भी कारकुंड कोंडू का बेटा लेनदार के यहां बंधुआ है.

बुरहानपुर जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर भोलाना गांव में कर्ज से तंग आकर आत्महत्या करने वाले किसान की अभी तक शासन-प्रशासन ने सुध नहीं ली है. पता चला है कि लगातार सिंचाई व्यवस्था नहीं होने से किसान की फसल खराब हो रही थी किसान सहकारी समिति, स्थानीय साहूकारों के लोन की राशि चुकता करने के लिए अपने किशोर बेटे को ढाई लाख रुपए में पड़ोस के गांव में एक व्यक्ति को गिरवी पर दिया था, उसके पास बेटे को मुक्त कराने का कोई रास्ता नहीं था, वो लगातार तनाव में था और इसी के चलते उसने आत्महत्या कर ली.

किसान के परिजनों के अनुसार मृतक किसान कारकुंड कोंडू की पानी की बावड़ी सूखने के कारण लगातार तीन फसलें खराब हो गई, जिससे उसे घाटा हो गया. सहकारी समिति के लोन के साथ-साथ कुछ लोगों से ली गई उधार राशि, साथ ही अपने बेटे को पड़ोस के गांव में ढाई लाख रुपए में गिरवी रखा था, उसे नहीं छुड़ा पाने के गम में यह कदम उठाया है. अभी कुछ दिन पहले ही मप्र. बीजेपी ने किसान सम्मान यात्रा की है किसानो के लिए किये गये वादों पर ऐसी घटनाओं के बाद कई सवाल कहदे होते हैं.

 


एट्रोसिटी एक्ट पर शिवराज के बयान पर कपिल सिब्बल ने किया पलटवार

बहुजन समाज पार्टी ने जारी किये 22 प्रत्याशियों के नाम


 VT PADTAL