VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Monday 14th of May 2018 | प्रदेश में लागू होगा एडव्होकेट प्रोटेक्शन एक्ट

प्रदेश में लागू होगा एडव्होकेट प्रोटेक्शन एक्ट, अधिवक्ताओं को मिलेंगी कई सुविधाएं : शिवराज सिंह


भोपाल। मध्यप्रदेश में इसी साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, ऐसी स्थिति में प्रदेश सरकार के द्वारा बड़ी-बड़ी घोषणाएं कर सभी वर्गों को मनाने का का कार्य कर रही है, रविवार को सीएम शिवराज नेशनल लॉ इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी में राज्य अधिवक्ता परिषद के कार्यक्रम में अधिवक्ताओं को लेकर भी बड़ी घोषनाए की मुख्यमंत्री ने कहा की प्रदेश में जल्द ही एडव्होकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाएगा,प्रदेश सरकार मानसून सत्र में इस सम्बन्ध में विधानसभा में विधेयक प्रस्तुत करेगी|

चुनावी साल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के एडवोकेटों को बड़ी सौगात दी है। सीएम के प्रदेश में एडव्होकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू किये जाने की घोषणा के बाद परदेश भर के अधिवक्ताओं में ख़ुशी का माहौल देखा जा रहा है, आपको बता दें की कई सालों से प्रदेश के अधिवक्ता सरकार से इस एक्ट को लागू करने की मांग कर रहे थे, इसको लेकर वे कई बार हड़ताल , प्रदर्शन और विरोध भी दर्ज करवा चुके थे।

अधिवक्ताओं को मिलेगी यह सुविधाएं

  • अधिवक्ता चेंबर निर्माण के लिये 50 प्रतिशत की मैचिंग ग्रांट सरकार देगी।
  • ई-लायब्रेरी निर्माण में लगने वाली राशि का बजट में प्रावधान किया जायेगा।
  • अधिवक्ताओं को गंभीर बीमारियों के उपचार के लिये राशि उपलब्धता की सीमा अधिकतम पाँच लाख रूपये की जायेगी।
  • अधिवक्ता की असामयिक मृत्यु पर चार लाख की राशि परिजनों को दी जायेगी। इस राशि में 2 लाख रूपये राज्य सरकार और 2 लाख रूपये बार काउंसिल द्वारा देय होगी।
  • नये अधिवक्ताओं को दिये जाने वाला अनुदान 12 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रूपये किया जायेगा।

दरअसल अधिवक्ता कार्यक्रम में पहुचे मुख्यमंत्री ने इस एक्ट को लागू करने के साथ साथ कई अन्य सौगातों की भी घोषणा की। सीएम ने कहा कि शासन का सबसे अच्छा स्वरूप लोकतंत्र है। इसकी मजबूती के लिये जनता का न्यायपालिका पर भरोसा होना आवश्यक है। समय पर निष्पक्ष न्याय दिलाने में न्यायाधिपतियों और अधिवक्ताओं की प्रमुख भूमिका होती है।

 


बहुजन समाज पार्टी ने जारी किये 22 प्रत्याशियों के नाम

निर्वाचन आयोग ने कहा बदलाव के लिए करें मतदान, बीजेपी ने जताई आपत्ति


 VT PADTAL