इस जिले में हो रही थी 13 वर्षीय नाबालिक की शादी, मौके पर पहुच कर प्रशासन ने रोकी शादी

इस जिले में हो रही थी 13 वर्षीय नाबालिक की शादी, मौके पर पहुच कर प्रशासन ने रोकी शादी

सिंगरौली  जिले के सरई तहसील अंतर्गत शिवगढ़ गांव में अछय तृतीया  के दिन नाबालिग लड़की की  विवाह होने की स्थानीय व्यक्तियों व पत्रकारों द्वारा  सूचना दिए जाने पर  संपदा सर्राफ डिप्टी कलेक्टर शह प्रभारी तहसीलदार सरई ने  स्थानीय सरई थाने की पुलिस राजस्व की व महिला बाल विकास की टीम  के सहयोग से यह शादी रुकवाई गई| शिवगढ़ गाँव में यह नाबालिक 13 वर्षीय बच्ची की शादी हो रही थी तहसीलदार संपदा सर्राफ ने बताया कि उन्हें स्थानीय व्यक्तियों व पत्रकारों द्वारा सूचना मिली कि जिले के  शिवगढ़ गाँव में एक नाबालिग 13 वर्षीय लड़की की शादी कराने की तैयारी की जा रही है| इसके बाद संयुक्त टीम शिवगढ़ गांव पहुंची तो देखा गया कि  शादी के जो  रस्म वेदी बनी होती है उसको लड़की के घर वालों द्वारा मिटा दिया गया था लड़की के पिता ने मामले को बताने से साफ इनकार किया लेकिन सबूत कुछ  अलग कह रहे थे कि यहां पर शादी की तैयारी चल रही थी| इस टीम में  शामिल अधिकारियों ने सारे सबूत को देखते हुए नाबालिक लड़की की शादी करने वाले पिता को डिप्टी कलेक्टर सह प्रभारी संपदा सर्राफ तहसीलदार सरई घटनास्थल पर पहुंचकर पंचनामा बनाकर सरई पुलिस के कब्जे में पूछताछ के लिए भेज दिया गया है| वही तहसीलदार संपदा सराफ का कहना था कि स्थानीय व्यक्तियों  व पत्रकारों द्वारा सूचना दिए जाने पर यह शादी रुकवाई गई| स्थानीय व्यक्तियों  व पत्रकारों का बहुत अच्छा कार्य है उन्होंने समय रहते सूचना देकर नाबालिक की शादी को रुकवाया|