किशोरी ने धनपुरी पुलिस पर प्रताड़ना का लगाया आरोप खाया जहर

किशोरी ने धनपुरी पुलिस पर प्रताड़ना का लगाया आरोप   खाया जहर

शहडोल पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने रविवार को उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब एक किशोरी जहरीले पदार्थ का सेवन कर आ धमकी। उसके साथ मौजूद परिजनों व अन्य लोगों ने इसकी वजह धनपुरी पुलिस पर प्रताडि़त करना का आरोप बताया। पुलिस की प्रताड़ना से किशोरी ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने ही जहर का सेवन कर लिया| मामला थाना धनपुरी का है जहां किशोरी धनपुरी थाना क्षेत्र के वार्ड नं 17 के रहने वाली छाया पनिका है। किशोरी की हालत को देखते हुए उसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां परीक्षण किया जा रहा है कि उसने जहर ही खाया है या कुछ और। उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। पुलिस के अनुसार मामला आपसी विवाद का है। धनपुरी के पनिका परिवार का पड़ोसी  विवाद चल रहा है। बीते 4 तारीख को तेरसी कुशवाहा व उसके लड़कों के साथ नरेंद्र उर्फ चाचू पनिका, जीनू पनिका, व अन्य द्वारा मारपीट की गई, जिससे तेरसी कुशवाहा का पैर फैक्चर हो गया। दोनों पक्षों की रिपोर्ट पर थाना में काउंटर रिपोर्ट दर्ज की गई। चूंकि पनिका पक्ष की ओर से मारपीट में दूसरे पक्ष का पैर टूटा, इसलिए अपने पक्ष में मामला बनाने के लिए शनिवार की रात डायल 100 को फोन किया। उनके घर पहुंचे कर्मचारियों को बंधक बना लिया। सूचना पर थाना से पहुंची पुलिस ने उन्हें छुड़ाया। आरक्षक मनोज सिंह की शिकायत पर धारा 353 का मामला दर्ज किया गया। डीएसपी हेड क्र्वाटर वीडी पांडेय ने बताया कि दोनों पक्षों में पहले भी विवाद हुए हैं और दोनों पक्षों पर सितंबर माह में भी मामला दर्ज हुआ था। वहीं अधिकारियों का कहना है कि धनपुरी पुलिस की प्रताडऩा की शिकायत लेकर एक परिवार आया था। जिसने बताया कि किशोरी ने जहर खाया हुआ है। उसको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की जाच एसडीओपी धनपुरी को दी गई है।