देश की जनता को जागरूक करने के लिए जेल के ऑर्केस्ट्रा ग्रुप ने बनाया कोरोना सॉंग

देश की जनता को जागरूक करने के लिए जेल के ऑर्केस्ट्रा ग्रुप ने बनाया कोरोना सॉंग

मध्यप्रदेश में कोरोना वॉरियर्स यानी प्रदेश के पुलिस अधिकारी कर्मचारियों के गाने हमने सुन लिया लेकिन अब बात चार दीवारी के अंदर रहने वाली कैदियों की करते हैं| जिन्होंने खुद कोरोना सॉन्ग तैयार किया है| भोपाल सेंट्रल जेल में कैदियों ने करोना गाने को बनाया और रिकॉर्ड भी किया। जेल के आर्केस्ट्रा ग्रुप में इस गाने को तैयार किया है| इस सॉन्ग के जरिए कैदी जनता को कोरोना से बचाने और जागरूक करने की कोशिश कर रहे हैं| बता दे आर्केस्ट्रा में हत्या जैसे मामलों में सजा काट रहे कैदी शामिल है जो अब अपनी आवाज और म्यूजिक से सबका दिल जीत रहे हैं। इस ग्रुप में करीब 10 कैदी जो जेल के अंदर होने वाली गतिविधियों में ऑर्केस्ट्रा का संचालन करते हैं| जेल प्रबंधन के द्वारा इन कैदियों को बकायदा ट्रेनिंग दी गई है और अपनी अपनी रूचि के अनुसार कैदी ऑर्केस्ट्रा में अपनी भूमिका निभाते है | 

जेल के अंदर बनाए गए ऑर्केस्ट्रा ग्रुप का नाम अभिनव बंदी रखा गया है| इन सदस्यों ने जनता को जागरूक करने के लिए सॉन्ग को सबसे पहले लिखा उसके बाद जेल प्रबंधन को लिखे हुए गीत बताएं ,इसके बाद जेल प्रबंधन की परमिशन मिलने पर ऑर्केस्टा ने इस गाने को कम्पोज किया, इसमें म्यूजिक दिया, धुन बनाई और पूरी तरीके से तैयार करने के बाद इसे रिकॉर्ड भी किया। इस गाने के बोल है- कोरोना को भगाना है...... देश को बचाना है..... प्यारा है देश हमारा...... देशवासियों को बचाना है।

यह गाना कैदियों ने खुद लिखा है| इस गाने के माध्यम से कैदी देश की जनता को जागरूक करने का प्रयास कर रहे है|