मध्यप्रदेश के इंदौर में सर्वाधिक केस, इंदौर कलेक्टर ने कहा- घबराये नहीं सतर्क रहे||

मध्यप्रदेश के इंदौर में सर्वाधिक केस, इंदौर कलेक्टर ने कहा- घबराये नहीं सतर्क रहे||
indore

मध्य प्रदेश के  इंदौर की स्थिति सबसे खराब है। यहां हर पांचवा संदेश कोरोना पॉजिटिव निकल रहा है। इंदौर में कई हॉटस्पॉट क्षेत्र हैं और उन सभी क्षेत्रों में घर-घर जाकर सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है जिसमें अभी तक 18 लाख लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी है।मध्यप्रदेश में अब तक 103 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है वहीं कोरोना से इंदौर में 57 लोग अपनी जान गवा चुके हैं। इंदौर में 1176 पहुंचा आकड़ा मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस 2 का आंकड़ा 2198 और चुका है और इनमें से केवल इंदौर में 11 76 पॉजिटिव के सामने आए हैं जिनमें से अब तक 57 लोगों की मौत हो चुकी है। इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह का कहना है कि अभी बड़ी संख्या में गुणा पॉजिटिव मरीज सामने आएंगे लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है उन्होंने कहा कि हमें पूर्ण वायरस से घबराने के बजाय सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। हमने कहा कि टेस्ट सैंपल का बैकलॉग बढ़ गया है दो-चार दिन में पूरा बैकलॉग क्लियर हो जाएगा| इन सैम्पल में से अधिकांश सैंपल क्वॉरेंटाइन वाले लोगों के हैं या पुराने सैंपल से जिन्होंने ट्रीटमेंट लिया है और वह ठीक भी हो चुके हैं। इंदौर के हालात सामान्य हो जाएंगे इंदौर। इसलिए इंदौर वासियों को घबराने की नहीं बल्कि सतर्कता बरतने की आवश्यकता है।