सहकारिता से साकार होगा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश व लोकल के लिए वोकल का सपना

भारतीय संस्कृति का मूल भाव है "सर्वे भवन्तु सुखिन:'' तथा "वसुधैव कुटुम्बकम्''

सहकारिता से साकार होगा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश व लोकल के लिए वोकल का सपना
भारतीय संस्कृति का मूल भाव है "सर्वे भवन्तु सुखिन:'' तथा "वसुधैव कुटुम्बकम्''