VT Update
राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने रीवा शहडोल सहित कई जिलों को दिए 10-10 लाख रुपए, कोरोना के खिलाफ जंग में मदद के लिए आगे आए सांसद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उपस्थित हुए कमिश्नर कलेक्टर एसपी सहित तमाम अधिकारी सीएम ने दिया निर्देश गरीब व्यक्तियों के भोजन वितरण की व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम कोरोना के खिलाफ जंग में प्रदेश के साथ विन्ध्य का आमजन भी आया सामने,नेताओं,समाज सेवकों ने उठाया जिम्मा, बेसहारा मजदूरों को वितरित किए भोजन के पैकेट रीवा जिले में विदेश यात्रा करने वाले 60 लोगों की सूची तैयार 46 लोग जिले के अंदर है मौजूद, विदेश से आए लोगों के घरों के बाहर प्रशासन लगा रहा पोस्टर ताकि लोग रहें सावधान ब्रह्मकुमारी संस्थान की प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी जी का निधन 104 साल की उम्र में ली अंतिम सांस
Monday 25th of November 2019 | चीनी समर्थक कैरी लैम के खिलाफ हुई वोटिंग

हांगकांग में चीन को झटका, जिला परिषद चुनाव में लोकतंत्र समर्थकों की बड़ी जीत


हांगकांग में छह महीनों से जारी विरोध-प्रदर्शनों के बीच रविवार को जिला परिषद के लिए रिकॉर्ड तोड़ 70 प्रतिशत वोटिंग हुई. मतदान के इस रुझान को सरकार विरोधी और लोकतांत्रिक समूह की भारी कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है. इस चुनाव को हांगकांग की नेता और चीफ एग्जिक्यूटिव कैरी लैम के लिए एक शक्ति परीक्षण के तौर पर देखा जा रहा है.

लोकतंत्र समर्थक विरोध समूहों को उम्मीद है कि करीब छह महीने की अशांति और सरकार विरोध के बाद हुई वोटिंग से चीनी सरकार को एक संदेश मिलेगा. वित्तीय हब माने जाने वाले हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक उम्मीदवारों ने पहली बार 452 जिला परिषद सीटों में से आधे से अधिक पर जोरदार जीत हासिल की है.

जीत को लोकतांत्रिक सुनामी बताया

हांगकांग में जिला परिषद चुनाव में जीत हासिल करने वाले उम्मीदवारों का कहना है कि यह जीत लोकतंत्र समूहों की जीत है. ये नतीजे प्रदर्शनकारियों के समर्थन की गवाही दे रहे हैं. इस नतीजे से चीफ एग्जिक्यूटिव कैरी लैम पर दबाव बढ़ेगा जिन्हें चीन का समर्थक माना जाता है.कैरी लैम की वजह से हांगकांग एक दशक से अधिक समय से धरना प्रदर्शनों का गवाह बना हुआ है. चीन की सीमा से सटे यूएन लॉन्ग जिले में एक सीट से जीत हासिल करने वाले पूर्व छात्र नेता टॉमी चेउंग ने कहा, 'यह लोकतंत्र की शक्ति है. यह एक लोकतांत्रिक सुनामी है.'

बता दें कि रविवार को हांगकांग के जिला परिषद चुनाव में अभूतपूर्व 70 प्रतिशत मतदान हुआ. महीनों चले विरोध प्रदर्शन के बीच अप्रत्याशित संख्या में मतदाताओं ने मतदान में भाग लिया. रविवार को हुए स्थानीय चुनाव में 41 लाख 30 हजार पंजीकृत मतदाताओं में से 29 लाख 40 हजार लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. वोटिंग का यह आंकड़ा 2015 में हुए चुनाव से 47 प्रतिशत से भी अधिक था. गौरतलब है कि 1999 में चुनावों के शुरू होने के बाद 2015 में पड़े मतों की संख्या अपने आप में एक रिकॉर्ड थी.

क्यों अहम है यह चुनाव

हांगकांग में जिला परिषदों में वास्तव में बहुत कम ताकत होती है. इसलिए आमतौर पर यह चुनाव बहुत ही स्थानीय स्तर पर होता है. लेकिन इस चुनाव को अलग माना जा रहा है. जून में सरकार विरोधी प्रदर्शन शुरू होने के बाद यह पहला चुनाव है. इसलिए यह एक तरह से कैरी लैम के लिए लिटमस टेस्ट की तरह माना जा रहा है जो यह बता रहा है कि मौजूदा सरकार को कितना समर्थन है.

 


रोज एक डिब्बा सिगरेट पीने वाले शख्स का फेफड़ा देख कर डॉक्टरों के भी उड़े होश |

सावधान ! whatsapp पर आने वाले विडियो से हो सकती है जासूसी |


 VT PADTAL