अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को लाने का रास्ता साफ जल्द पहुचेगी ट्रेनें

अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को लाने का रास्ता साफ जल्द पहुचेगी ट्रेनें

 छत्तीसगढ़ सरकार की पहल के बाद देश के अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को लाने का रास्ता साफ हो गया है. प्रवासी मजदूरों को लेकर  आ रही ट्रेनें रायपुर पहुंचेगी. इस संबंध में जिला प्रशासन और रेलवे प्रशासन ने अपनी तैयारी तेज कर दी है. रायपुर रेलवे स्टेशन पर 13 मई से देश के कई राज्यों से छतीसगढ के मजदूरों को लेकर ट्रेन के आने की संभावना हैं. मिली जानकारी के अनुसार, 13, 15 और 17 मई को एक-एक ट्रेन यूपी के लखनऊ से और 16 मई को बिहार के मुजफ्फरपुर से एक ट्रेन आने की संभावना हैं. प्रवासी मजदूरों के यहां आने से पहले प्रशासनिक तैयारियां जारी हैं.
इसके लिए रायपुर के कलेक्टर ने 3 अधिकारियों की एक टीम गठित की है. इन अधिकारियों में क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी शैलाभ साहू, सीएसपी डी सी पटेल और तहसीलदार अमित बेक शामिल हैं. मिली जानकारी के अनुसार इन मजदूरों को  रायपुर पहुंचने के बाद सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करते हुए दो-दो बोगियों से मजदूरों को उतारा जायेगा. इन मजदूरों को यहां मौजूद 12 मेडिकल टीम जांच करेगी. इन सभी की स्वास्थ्य की जांच के बाद बसों से उनके गृह जिलों के क्वारंन्टाइन सेंटर में भेजा जाएगा.
छत्तीसगढ़ के वैसे मजदूर, छात्र व अन्य लोग लॉकडाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं. उनकी वापसी के लिए प्रदेश सरकार ने पहल की है. छत्तीसगढ़ सरकार ने 4 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को कन्फर्म कर दिया है. इन ट्रेनों में आने के लिए लोगों को राज्य सरकार द्वारा जारी ऐप में एप्लाई करना पड़ेगा. छत्तीसगढ़ सरकार ने इस ऐप का लिंक जारी किया है.
अगर आप छत्तीसगढ़ वापस आना चाहते हैं तो इसके लिए सरकार ने ऑनलाइन लिंक जारी किया है. इसके लिए आपको www.cglabour.nic.in/covid19MigrantRegistrationService.aspx पर क्लिक करना होगा. इस लिंक में अप्लाई कर लोग इन ट्रेनों के सफर कर यहां वापस आ सकेंगे. इसके अलावा 24 घंटे चलने वाली हेल्पलाइन नंबर भी जारी की गई है. ये नंबर हैं- 0771-2443809, 9109849992, 7587821800, 7587822800, 9685850444, 9109283986 तथा 8827773986. प्रदेश सरकार का दावा है कि इन हेल्प लाइन लिंक और नंबरों पर 24 घंटे सेवा उपलब्ध रहेगी.