CM शिवराज का ऐलान MP में फिलहाल नहीं होगा टोटल लॉकडाउन |

CM शिवराज का ऐलान MP में फिलहाल नहीं होगा टोटल लॉकडाउन |

एमपी में फिलहाल टोटल लॉकडाउन नहीं होगा. सीएम शिवराज ने कहा लॉकडाउन अंतिम विकल्प है. सभी ज़िलों की स्थिति की समीक्षा करने के बाद कोई फैसला लिया जाएगा. उन्होंने MP का नया मतलब गढ़ा. सीएम ने कहा एमपी मतलब मास्क पहनना.उन्होंने कहा कोरोना के खिलाफ जंग में हमें बहुत व्यापक समर्थन सभी वर्गों से मिल रहा है. लेकिन इस बीमारी की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है. इससे निपटने के लिए समाज को प्रशासन के साथ मिलकर लड़ना होगा.

सीएम शिवराज का कोरोना के खिलाफ लोगों में जागरुकता लाने के लिए स्वास्थ्य आग्रह आज 24 घंटे बाद भोपाल (Bhopal) में पूरा हो गया. भोपाल के मिंटो हॉल में किेये गए इस आग्रह में उन्होंने आज धर्मगुरुओं से सुझाव लिए.उससे पहले उन्होंने समाज के अलग-अलग तबकों से सुझाव मांगे. सीएम शिवराज ने कहा एमपी का मतलब है मास्क पहनना. उन्होंने ये कहकर सबको राहत दी कि लॉकडाउन अंतिम विकल्प होगा.

सीएम ने कहा कंटेनमेंट जोन आधारित लॉकडाउन लगाया जाएगा. लॉक डाउन अंतिम विकल्प होगा. जिन जिलों में जरूरत है वहां पर विचार करने के बाद अंतिम विकल्प के रूप में लॉक डाउन लगाए जाएगा.

सीएम ने कहा इंजेक्शन के संबंध में s.o.p. और एक प्रोटोकॉल को जारी किया जाएगा. इसकी पूर्ति के लिए सरकार खुद इन इंजेक्शन्स को खरीदेगी ताकि गरीबों को यह इंजेक्शन निशुल्क मिल सकें.दवा की कालाबाजारी और अनाप-शनाप रेट पर कंट्रोल करने के लिए हम मॉनिटरिंग करेंगे.

सीएम ने कहा हम ऑक्सीजन की कमी नहीं होने देंगे. गरीबों को मास्क मिल जाए ये बेहद ज़रूरी है. रोज नये मास्क इस्तेमाल की ज़रूरत नहीं. मास्क को धोकर दोबारा भी इस्तेमाल किया जा सकता है. जीवन शक्ति योजना के तहत हम महिला उद्यमियों को 10 लाख मास्क बनाने की इजाजत दे रहे हैं.

कोरोना के बिगड़ते हालात के बीच मध्य प्रदेश में महाराष्ट्र के बाद अब छत्तीसगढ़ से लगी सीमाएं भी सील कर दी गयी हैं. 15 अप्रैल तक यात्री वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी गयी है. महाराष्ट्र की सीमाएं पहले से ही सील हैं. अब देश में दूसरे नंबर पर छत्तीसगढ़ में संक्रमण बढ़ने के बाद वहां की सीमाएं भी सील करना पड़ी हैं.