कोरोना काल में बेसहारा हुए बच्चों को मिलेगी 10 लाख तक की आर्थिक मदद

प्रधानमंत्री केयर फॉर चिल्ड्रेन योजना में किया गया इसका प्रावधान

कोरोना काल में बेसहारा हुए बच्चों को मिलेगी 10 लाख तक की आर्थिक मदद

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान काफी लोग दिवंगत हो गए। ऐसे कई परिवारों का पता चला जहां केवल बच्चे ही बच गए थे, उनके माता-पिता, कानूनी अभिभावक या दत्तक अभिभावक भी काल के गाल में समा गए। ऐसे में इन बच्चों की देख-रेख, उनकी शिक्षा आदि की व्यवस्था के लिए केंद्र सरकार ने पहल की है। सरकार ने प्रधानमंत्री केयर फॉर चिल्ड्रेन योजना लागू की है जिसके तहत ऐसे बेसहारा बच्चों को 10 लाख रुपये की मदद की जाएगी।

इस संबंध में जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास प्रतिभा पांडेय का कहना है कि योजना के तहत कोरोना संक्रमण काल की अवधि में 18 साल तक की आयु के निराश्रित हुए बच्चों को 10 लाख रूपये तक की आर्थिक सहायता पीएम केयर फॉर चिल्ड्रेन योजना के अंतर्गत दी जाएगी। उन्होंने बताया कि कोरोना काल में जिन बच्चों के माता-पिता, कानूनी अभिभावक या दत्तक माता पिता का निधन हो गया है उन बेसहारा बच्चों को ये सहायता राशि दी जानी है। ऐसे निराश्रित बच्चे पुनर्वास तथा आर्थिक सहायता के लिए 26 सितंबर तक कलेक्ट्रेट परिसर स्थित जिला कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं। यह एक अच्छी पहल है जो बच्चे कोरोना के कारण अनाथ हुए  उन बच्चों को भी अच्छा जीवन मिल सके |