सऊदी अरब: क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन-सलमान पर अमेरिका ने उठाई उंगली

सऊदी अरब: क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन-सलमान पर अमेरिका ने उठाई उंगली
सऊदी अरब: क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन-सलमान पर अमेरिका ने उठाई उंगली

सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने इसे लेकर बयान जारी किया है. इस बयान में कहा गया है, ''सऊदी की सरकार जमाल ख़ाशोज्जी मामले में अपमानजनक और ग़लत निष्कर्ष तक पहुँचने वाली अमेरिकी रिपोर्ट को सिरे से ख़ारिज करती है. हम इस रिपोर्ट को अस्वीकार करते हैं. इस रिपोर्ट में ग़लत निष्कर्ष निकाला गया है.''

सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने कहा है, ''यह एक नकारात्मक और फ़र्ज़ी रिपोर्ट है. हम इस मामले को लेकर पहले ही कह चुके हैं कि वो एक संगीन अपराध था, जिसमें सऊदी अरब के क़ानून और मूल्यों का उल्लंघन किया गया. हमारी सरकार ने इस मामले की जाँच के लिए सभी कड़े क़दम उठाए थे ताकि इंसाफ़ मिल सके. इसमें शामिल लोगों को दोषी ठहराया गया और अदालत ने उन्हें सज़ा भी दी. कोर्ट की सज़ा का जमाल ख़ाशोज्जी के परिवार ने भी स्वागत किया था. हमने वो हर ज़रूरी क़दम उठाए हैं, जिनसे ये सुनिश्चित किया जा सके कि ऐसा अपराध दोबारा ना हो.''

सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि अमेरिकी ख़ुफ़िया रिपोर्ट अफ़सोसनाक है और यह रिपोर्ट ग़लत निष्कर्ष तक गई है. मंत्रालय ने कहा है, ''यह रिपोर्ट अफ़सोसनाक है. इसमें कुछ भी सच्चाई नहीं है. बिल्कुल ग़लत निष्कर्ष निकाला गया है. सऊदी अरब इस संगीन अपराध को लेकर बहुत गंभीर है और ऐसी कोशिश कर रहा है कि दोबारा इस तरह के अपराध ना हों. हम अपने नेतृत्व को लेकर किसी भी पूर्वाग्रह को सिरे से नकारते हैं.''

2019 में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन-सलमान ने सीबीएस से कहा था कि वे जमाल ख़ाशोज्जी की हत्या की पूरी ज़िम्मेदारी लेते हैं लेकिन उन्होंने इस बात से इनकार किया था कि उनके आदेश पर हत्या की गई थी.