धोनी ने कहा- जब तक सभी साथी सुरक्षित घर नहीं पहुंच जाते, तब तक मैं भी चेन्नई टीम को छोड़कर होटल से नहीं जाऊंगा

धोनी ने कहा- जब तक सभी साथी सुरक्षित घर नहीं पहुंच जाते, तब तक मैं भी चेन्नई टीम को छोड़कर होटल से नहीं जाऊंगा

कोरोना के चलते IPL 2021 सीजन को बीच में ही रोके जाने के बाद विदेशी प्लेयर्स को चार्टर्ड प्लेन और भारतीय खिलाड़ियों को बस से घर पहुंचाया जा रहा है। इसी बीच, चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का मैदान के बाहर भी सुपर कप्तानी वाला रूप देखने को मिला है। उन्होंने कहा है कि जब तक टीम के सभी खिलाड़ी सुरक्षित घर नहीं पहुंच जाते, तब तक वे भी होटल छोड़कर नहीं जाएंगे।

39 साल के धोनी अभी चेन्नई टीम के साथ दिल्ली के एक होटल में ठहरे हुए हैं। टीम के साथ फाफ डु प्लेसिस और ड्वेन ब्रावो समेत कुछ विदेशी खिलाड़ी भी हैं। CSK फ्रेंचाइजी ने खिलाड़ियों को शिफ्ट करने के लिए 10 सीटर चार्टर्ड फ्लाइट का इंतजाम किया है।

पहले विदेशी खिलाड़ियों को भेजना चाहिए
सूत्रों के मुताबिक, धोनी ने कहा है कि वे होटल से जाने वाले आखिरी व्यक्ति होंगे। वे चाहते हैं कि विदेशी खिलाड़ियों को सबसे पहले रवाना किया जाना चाहिए। इसके बाद भारतीय खिलाड़ियों का नंबर आए। जब सभी लोग अपने घर सुरक्षित पहुंच जाएंगे, उसके बाद वे सबसे आखिर में फ्लाइट पकड़कर अपने घर रांची पहुंचेंगे।

चेन्नई टीम के बैटिंग कोच माइक हसी और बॉलिंग कोच एल बालाजी का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था। उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली से चेन्नई ले जाया गया। वहां दोनों का बेहतर इलाज किया जाएगा। हसी का टेस्ट निगेटिव आने के बाद ही उन्हें घर यानी ऑस्ट्रेलिया के लिए चार्टर्ड प्लेन से रवाना किया जाएगा।

CSK टीम पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर
धोनी की टीम इस सीजन में पिछली बार के मुकाबले शानदार फॉर्म में थी। टूर्नामेंट रुकने तक CSK टीम 7 में से 5 मैच जीतकर पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर मौजूद थी। टीम के लिए ओपनर फाफ डु प्लेसिस ने सबसे ज्यादा 380 रन बनाए थे।