मध्यप्रदेश में शिक्षकों के 10 लाख से ज्यादा पद खाली, फिर भी नियुक्तियां बंद: सांसद दिग्विजय सिंह

मध्यप्रदेश में शिक्षकों के 10 लाख से ज्यादा पद खाली, फिर भी नियुक्तियां बंद: सांसद दिग्विजय सिंह
digvijay singh

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद (राज्यसभा सदस्य) श्री दिग्विजय सिंह ने शिक्षक दिवस के अवसर पर शिवराज सिंह सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने अपने फॉलोअर्स को बताया कि शिवराज सिंह सरकार शिक्षकों का सम्मान नहीं करती।श्री दिग्विजय सिंह ने बताया कि आज भी शासकीय स्कूलों में 10 लाख से ज़्यादा पद ख़ाली हैं। नियुक्तियाँ बंद हैं। अस्थाई शिक्षकों को पगार नहीं मिल रही है। एमपी में सरकार 13 हज़ार स्कूलों को बंद कराना चाहती है। शिक्षकों का इतना सम्मान करती है ये सरकार! 

उन्होंने बताया कि शासकीय ग्रामीण स्कूलों में शिक्षकों की कमी और शहरों में छात्र कम - शिक्षक ज़्यादा!! मैं एक और अनुभव कर रहा हूँ। ग्रामों में फ़ीस लेने वाले English Medium निजी स्कूलों में छात्रों की संख्या बढ़ती जा रही है और शासकीय हिंदी मीडियम शालाओं में कम होती जा रही है। शासन को इस बारे में सोचना चाहिए क्योंकि गरीब भी फ़ीस दे कर English Medium निजी शालाओं में अपने बच्चों को पढ़ाना चाहता है।