विश्वविद्यालय प्रशासन से परीक्षा बहिष्कार करने की छात्रों की मांग, ई-मेल के जरिए सौपा ज्ञापन  

विश्वविद्यालय प्रशासन से परीक्षा बहिष्कार करने की छात्रों की मांग, ई-मेल के जरिए सौपा ज्ञापन  

 

देश और प्रदेश कोरोना नामक महामारी से लड़ रहा हैं| सरकार द्वारा लॉक डाउन करके देश की जनता को बचाया जा रहा है|  सभी नागरिकों को अपने घरों में रहने के लिए कहा जा रहा है । लॉक डाउन के बाद स्कूल कॉलेज की परीक्षा स्तगित कर दी गई है लेकिन अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा द्वारा स्नातक एवं स्नातकोत्तर की वार्षिक परीक्षाओं का आयोजन करने की तैयारी की जा रही है । परीक्षा होने पर पर भीड़ इकट्ठा होगी एवं संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा । हजारों की संख्या में छात्र-छात्राएं जब परीक्षाएं देने आएंगे और उनमें से अगर दुर्भाग्यवश एक भी व्यक्ति संक्रमित निकला तो वह पूरे छात्र-छात्राओं के साथ साथ महाविद्यालय के प्राध्यापक एवं कर्मचारियों को भी संक्रमित कर देगा । इसी संबंध में छात्रों द्वारा अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति के नाम ई-मेल द्वारा ज्ञापन पत्र दिया गया है ।

बाहर रह रहे छात्रों का होगा नुकसान

छात्रों ने मांग की है कि परीक्षाओं में बैठने वाले कई छात्र-छात्राएं संभाग के बाहर कई जगहों पर और रेड जोन जैसे इंदौर और भोपाल में फस गए हैं । यह छात्र अपने निजी कारण या पठन-पाठन के कार्य से बाहर गए हुए थे और लॉक डाउन के बाद वहीं फंसे हुए हैं । अगर परीक्षाओं का आयोजन होगा तो ऐसे छात्र-छात्राएं परीक्षाओं से वंचित रह जाएंगे और उनका वर्ष खराब हो जाएगा ।

अभिभावकों के मन में है संक्रमण का डर

ज्ञापन पत्र में यह भी कहा गया है कि पूरे विश्व में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए हर छात्र छात्राओं एवं उनके अभिभावकों के मन में एक भय निर्मित है । छात्र-छात्राओं के अभिभावकों में कोरोना के चलते परीक्षा देने से छात्र-छात्राओं में संक्रमण होने  का डर है ।

विश्वविद्यालय से छात्र-छात्राओं ने ज्ञापन पत्र से यह निवेदन किया है कि सभी छात्र-छात्राओं के जीवन को ध्यान में रखते हुए  परीक्षाओं का आयोजन रोक देना चाहिए अन्यथा सभी छात्र छात्राएं परीक्षाओं के बहिष्कार के लिए बाध्य होंगे जिसकी पूरी जवाबदारी विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी ।

 

ई-मेल द्वारा दिए गये ज्ञापन पत्र में मॉडल साइंस कॉलेज रीवा के छात्रों द्वारा प्रतिनिधिमंडल के रूप में आलोक तिवारी ,प्रांजल हर्ष पांडे, देवव्रत त्रिपाठी, आदर्श मिश्रा ,अंकित तिवारी, भास्कर सिंह, राहुल त्रिपाठी, नवदीप पांडे, रोहित द्विवेदी , पियूष गुप्ता आदि छात्र थे ।