स्टेशन मास्टर से 4.25 लाख की ठगी, सायबर पुलिस ने 1 लाख बचाए |

स्टेशन मास्टर से 4.25 लाख की ठगी,  सायबर पुलिस ने 1 लाख बचाए |

ठगों ने स्टेशन मास्टर को चार लाख 24 हजार 997 रुपए ऑनलाइन निकाल लिए। स्टेशन मास्टर ने IDFC के एलटीआईबी बांड में निवेश किया था। उसकी मैच्योरिटी पूरी होने पर भुगतान कराना था। इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए उन्होंने गूगल पर कंपनी के कस्टमर केयर का नंबर सर्च किया, जो जालसाज का लग गया। आरोपी ने एनीडेस्क एप डाउनलोड कराकर खाते से रकम निकाल लिए।

रामनगर निवासी मुकेश चौरसिया देवरी में स्टेशन मास्टर हैं। 23 फरवरी को IDFC के एलटीआईबी बांड के मैच्योरिटी भुगतान की प्रक्रिया समझने गूगल पर कस्टमर केयर का नंबर ढूंढ रहे थे। उनकी बात नोएडा के किसी राहुल मल्होत्रा से हुई। आरोपी ने झांसे में फंसाते हुए कहा कि नेटवर्क की समस्या है। फिर मोबाइल नंबर से संपर्क कर एनीडेस्क एप डाउनलोड कराया |

24 फरवरी को उसने सायबर सेल जबलपुर में सूचना दी। वहां के प्रयासों से उसके खाते में एक लाख रुपए वापस आ गए। शेष रकम आरोपी अपने खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर कर निकाल चुका था। पनागर पुलिस ने आरोपी जालसाज के खिलाफ धारा मामला दर्ज कर जांच में लिया है।