सीधी हादसा: सीएम ने किया शोक प्रकट, 1 लाख 10 हजार घरों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम रद्द,

सीधी हादसा: सीएम ने किया शोक प्रकट, 1 लाख 10 हजार घरों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम रद्द,

मध्यप्रदेश के सीधी जिले में बड़ा हादसा हो गया है सीधी में यात्रियों से भरी बस बाणसागर नहर में गिर गई जिसमे अब तक ४२  के शव नहर से निकाले गए हैं। अभी भी राहत औऱ बचाव कार्य जारी है। वहीं, दूसरी तरफ सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे के बाद आज के सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए हैं।
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- आज हम बड़े उत्साह से 1 लाख 10 हजार घरों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम संपन्न करने वाले थे लेकिन सवेरे 8 बजे ही मुझे यह सूचना मिली सीधी जिले में बाणसागर की नहर में शारदा पाटन गांव के पास यात्रियों से भरी एक बस गिर गई, बाणसागर की नहर काफी गहरी है हमने तत्काल बांध से पानी बंद करवाया, राहत और बचाव दलों को रवाना किया। कलेक्टर-एसपी एसडीआरएफ की टीम वहां मौजद है।

हमारी कोशिश यह है कि हम अपने भाई बहनों को बचा पाए लेकिन ऐसी परिस्थिति में मेरा भी पूरा दिमाग शरीर, मन, बुद्धि और आत्मा उन्हीं यात्रियों में लगी हुई है इसलिए आज कार्यक्रम करना उचित नहीं होगा। मैं भी तुरंत राहत और बचाव कार्य कार्य करने वाली टीम के संपर्क में सुबह 8:00 बजे से हूं। लगातार उन्हीं के संपर्क में रहना चाहता हूं। 7 साथी बचाए जा चुके हैं कोशिश यह है कि अपने भाई बहनों को सुरक्षित बचा पाए।

मेरी आप सब से भी प्रार्थना है आप अपने अपने स्थान पर भगवान से यह प्रार्थना करें कि वे सुरक्षित रहें सुरक्षित निकल आएं आज का कार्यक्रम हम स्थगित करते हैं इसे फिर और किसी अवसर पर करेंगे. वहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज होने वाली कैबिनेट बैठक को भी रद्द कर दिया है। सीएम ने कहा- आज के सभी कार्यक्रम रद्द किए जाते हैं।


इस हादसे पर मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी  शोक प्रकट किया है। कमलनाथ ने कहा- प्रदेश में सीधी से सतना जा रही बस के नहर में गिर जाने की दुखद ख़बर सामने आयी है। कई यात्रियों के हताहत होने की जानकारी सामने आयी है। मैं सरकर से मांग करता हूं कि तत्काल राहत कार्य प्रारंभ कर बस में फंसे यात्रियों को बचाने के लिये प्रयास हो। पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद की जावे।