mp में लव जिहाद के बढ़ते मामले, धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 के तहत हर रोज एक केस

mp में लव जिहाद के  बढ़ते मामले, धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 के तहत हर रोज एक केस

मध्यप्रदेश में 'लव जिहाद' को रोकने के लिए बनाए गए नए धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 के तहत हर रोज एक केस दर्ज हो रहा है। पहले 23 दिन में ही 23 मामले दर्ज किए गए हैं। ये मामले 9 से 31 जनवरी के बीच सामने आए। सबसे ज्यादा मामले भोपाल संभाग में सामने आए, यहां इस दौरान 7 अपराध दर्ज किए गए। जबकि इंदौर संभाग में 5 मामले रहे। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि देश को कमजोर करने के लिए लव जिहाद का सहारा लिया जा रहा है। इसके लिए देश विरोधी ताकत काम कर रही हैं। जनवरी में दर्ज मामले इस बात को साबित करने के लिए काफी हैं। वहीं मिश्रा ने बताया कि धर्म स्वातंत्र्य कानून के तहत भोपाल और इंदौर के अलावा जबलपुर संभाग में 4, रीवा संभाग में 4 और ग्वालियर संभाग में 3 अपराध दर्ज किए गए हैं। हम पहले से ही कहते थे कि यह एक गंभीर विषय है। यह बड़े पैमाने पर प्रदेश के अंदर है। उन्होंने कहा कि यह मेरा अधिकार क्षेत्र नहीं है, लेकिन देश के अंदर इस तरह के काफी लोग और ताकतें सक्रिय हैं। जिन पर अंकुश के लिए प्रदेश में पहल की है। यह तो सिर्फ एक महीने के आंकड़े हैं।