कोरोना को लेकर बड़ा फैसला, छत्तीसगढ़ से अब मप्र नहीं आ सकेंगी बसें, परिवहन सेवा पर लगाई रोक |

कोरोना को लेकर बड़ा फैसला, छत्तीसगढ़ से अब मप्र नहीं आ सकेंगी बसें, परिवहन सेवा पर लगाई रोक |

देश में लगातार कोरोना संक्रमण पैर पसार रहा है। इसको लेकर सरकार और प्रशासन के तमाम प्रयासों के बाद भी संक्रमण में कमी देखने को मिल रही है। इसको लेकर अब प्रशासन सख्ती तेज करने की तैयारी कर रहा है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मप्र सरकार ने फैसला लिया है कि छत्तीसगढ़ से मप्र आने वाली बसों पर पूरी तरह रोक लगाई गई है। अब छत्तीसगढ़ (CG) से बसें मप्र (MP) नहीं आ सकीं। बता दें कि प्रदेश में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शिवराज सरकार ने यह फैसला लिया है।

इसके मुताबिक दोनों राज्यों के बीच परिवहन सेवा पर रोक लगा दी गई है। इसको लेकर सरकार ने आदेश भी जारी कर दिया है। इस आदेश के मुताबिक मध्य प्रदेश सीमा में आज से 15 अप्रैल तक के लिए छत्तीसगढ़ से आने वाली बसों की सेवा बंद की गई है। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही है। इसको लेकर शिवराज सरकार ने प्रदेश हित में और कोरोना के कड़ी तोड़ने के लिए यह फैसला लिया है।

सीएम शिवराज सिंह लगातार लोगों को कोरोना बचाव के लिए जागरुक कर रहे हैं। इसके लिए वह सड़कों पर भी उतर आए हैं।प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने प्रशासन की चिंताएं बढ़ा दी हैं। कोरोना की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है। रोजाना 3 हजार के करीब मामले सामने आ रहे हैं। मंगलवार को 3722 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। वहीं मंगलवार को कुल 18 लोगों ने कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया है।

 मंगलवार को सबसे ज्यादा केस इंदौर से सामने आए हैं। इंदौर में 805, भोपाल में 582, जबलपुर में 257 और ग्वालियर में 160 नए मरीज सामने आए हैं। साथ ही प्रदेश के 37 जिले ऐसे हैं जहां रोजाना 20 से ज्यादा लोग संक्रमित निकल रहे हैं।