शक में दो प्रेमी युगल ने बर्बाद की अपनी हंसती खेलती जिन्दगी

सुसाइड नोट में लिखा 'जहां रहो खुश रहो' तुम्हारा अक्षय

शक में दो प्रेमी युगल ने बर्बाद की अपनी हंसती खेलती जिन्दगी

शक ,जो कभी रिश्तो को जोड़ता है तो कभी-कभी इन्सान को इतना दूर कर देता है कि पता ही नहीं चलता , और यही शक अगर प्रेम में आ जाए तो वह कितना खतरनाक हो जाता है इसका जीता जागता मामला भोपाल में देखने को मिला , दरअसल यहां पत्नी पर शक के चलते एक युवक ने अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी,और इतना ही नही इससे पत्नी को इतना दुख हुआ कि उसने भी खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी , यानी शक में दोनों का रिश्ता और वह दोनों खुद भी खत्म हो गए। आपको बता दें यह घटना भोपाल में पीएचआई ऑफिस के नजदीक न्यू अर्जुन नगर मल्टी की है जहां रहने वाले 26 वर्षीय अक्षय ने गुरुवार रात पौने दो बजे के करीब अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी अक्षय, बल्लभ भवन में लिफ्ट ऑपरेटर था, उसने 7 साल पहले प्रेम विवाह किया था जिसके बाद उसका एक बेटा हुआ , सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था इसी बीच कुछ दिन पहले अक्षय को पता चला कि उसकी पत्नी की दोस्ती किसी से बढ़ रही है इस पर अक्षय  ने पत्नी को समझाया भी ,लेकिन दोनों के बीच झगड़े बढ़ने लगे ,झगड़ों के चलते बीती 6 अक्टूबर को पत्नी बेटे को लेकर घर छोड़ कर चली गई ,पत्नी के जाने से परेशान अक्षय ने 18 अक्टूबर को अपने हाथ की नस काट ली और उसकी फोटो पत्नी को भेज दी ,जिसके बाद पत्नी घर लौट आई लेकिन 2 दिन साथ रहने के बाद वह फिर से घर छोड़ कर चली गई , इस बात से अक्षय इतना परेशान हुआ कि उसने गुरुवार की रात फांसी लगाकर जान दे दी और मरते मरते एक सुसाइड नोट अपनी पत्नी के नाम छोड़ गया ,जिसमें अपनी पत्नी को लिखा ‘कि तुमने जो चाहा मैंने किया लेकिन फिर भी तुमने मुझे धोखा दिया’ तुम्हें भगवान माफ नहीं करेगा’ मैंने तुम्हारी हर गलती को माफ किया इसके बाद भी तुमने मुझे ठुकरा दिया’ जहां रहो खुश रहो तुम्हारा अक्षय’ आपको बता दें अक्षय के सुसाइड की बात जब उसकी पत्नी को हुई तो शुक्रवार की सुबह वह घर लौटी ,और सुसाइड नोट पढ़कर पत्नी खुद को अक्षय की मौत का जिम्मेदार मानते हुए अपने कमरे में गई वहां पेट्रोल छिड़ककर खुद को आग लगा ली किसी तरह घर वालों ने आग बुझाकर उसे अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन 70 फ़ीसदी झुलस जाने के कारण शुक्रवार शाम को उसने भी दम तोड़ दिया ,यानि एक शक ने दो जिंदगिया बर्बाद कर दी ।