कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के दफ्तर पर हमला, बीजेपी पर लगा आरोप

कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के दफ्तर पर हमला, बीजेपी पर लगा आरोप

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ विदिशा के कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव की टिप्पणी से उठा विवाद शांत होता नहीं दिख रहा है| हम आपको शुरू से पूरा मामला बताते है| दरअसल विधायक ने दो दिन पहले पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के विरोध में किए प्रदर्शन के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ टिप्पणी की थी. इस पर बीजेपी में तीखी प्रतिक्रिया हुई| सबने विधायक शशांक भार्गव के बयान की निंदा की| भाजपाइयों ने कोतवाली पहुंचकर मामला दर्ज करवाया था| अब इस मामले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी दोनों आमने सामने आ गए है| दो दिन से विदिशा में इस पूरे मामले को लेकर हंगामा हो रहा है| कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के खिलाफ एफआईआर और फिर फैक्ट्री पर पथराव के विरोध में 26 जून यानी आज कांग्रेस यहां धरना दे रही है| इसमें पार्टी नेता दिग्विजय सिंह और सुरेश पचौरी भी शामिल होंगे| पुलिस ने उनकी फैक्ट्री और निवास पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है| विधायक ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर पथराव का आरोप लगाया है| गुरुवार को ही बीजेपी ने उनके ख़िलाफ़ थाने में FIR दर्ज करायी थी| मामला केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर टिप्पणी का था| बीजेपी ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस विधायक ने अमर्यादित टिप्पणी की| इसके बाद  विदिशा विधायक शशांक भार्गव की फैक्ट्री पर देर रात जमकर पथराव किया गया| यहीं पर विधायक का दफ्तर भी है| पथराव के कारण फैक्ट्री और दफ्तर की खिड़कियों के कांच टूट गए और कैंपस में खड़े चार पहिया वाहन क्षतिग्रस्त हो गए|  फिलहाल इस मामले में अभी तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है, लेकिन पुलिस ने विधायक शशांक अग्रवाल की फैक्ट्री और घर पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है|