बढ़ा 10वीं 12वीं के छात्रों का इंतजार जानिए कब होंगी बोर्ड और कॉलेज की परीक्षाएं

बढ़ा 10वीं 12वीं के छात्रों का इंतजार जानिए कब होंगी बोर्ड और कॉलेज की परीक्षाएं

लॉक डाउन दो हफ्ते बढ़ने के साथ ही एमपी बोर्ड के छात्र छात्राओं का इंतजार भी अब बढ़ चुका है। लॉक डाउन होने की वजह से दसवीं और बारवी के छात्र छात्राओं के पेपर स्थगित कर दिए गए थे और तब से अब तक उन सभी छात्र-छात्राओं को यह इंतजार था कि लॉक डाउन खत्म होने के बाद यह ऐलान होगा कि उनकी परीक्षाएं कब होंगी। कल सरकार द्वारा यह घोषणा की गई कि आगामी 17 मई तक लॉक डाउन की अवधि बढ़ा दी गई है और इसके साथ ही बोर्ड ने भी ऐलान कर दिया कि 17 मई के बाद अगर लॉक डाउन खत्म होता है तो उसके बाद बोर्ड परीक्षाओं की तारीख की घोषणा की जाएगी। बोर्ड ने यह भी ऐलान किया है कि छात्र-छात्राओं को इंटरनल एसेसमेंट के आधार पर नंबर नहीं दिए जाएंगे बल्कि स्थगित पेपर कराने के बाद ही उन्हें नंबर मिलेंगे। 17 मई के बाद ही यह फैसला होगा की बोर्ड परीक्षाएं होनी है या नहीं। बता दें कि 17 मई के बाद अगर लॉक खत्म होता है  लॉक डाउन खत्म होने के बाद 15 दिन के भीतर  परीक्षाएं कराई जाएंगी ताकि पेपर होते ही उनकी कॉपियां जांची जाएं और जून तक में रिजल्ट घोषित कर दिए जाएं। इसके साथ ही आप में से कुछ लोगों को यह पता होगा और कुछ को यह ज्ञात नहीं होगा की यूजीसी ने देश के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों के लिए परीक्षा और एकेडमिक कैलेंडर 2020 जारी कर दिया है और इस कैलेंडर के मुताबिक यूनिवर्सिटी का नया शैक्षणिक सत्र इस बार 2 माह की देरी से 1 सितंबर से शुरू होगा। वही कॉलेज की परीक्षाएं जो स्थगित कर दी गई थी उसमें यूजी और पीजी प्रोग्राम के डिग्री प्रोग्राम की आखिरी वर्ष के छात्रों की परीक्षा जुलाई में होगी जबकि हालात ठीक ना होने पर पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों को पूर्व सेमेस्टर के 50 फ़ीसदी और इंटरनल असेसमेंट के 50 फ़ीसदी अंक के आधार पर ग्रेड मिलेंगे।