सिविल इंजीनियर समेत 6 गिरफ्तार, धमाका कर लूटते थे ATM

सिविल इंजीनियर समेत 6 गिरफ्तार, धमाका कर लूटते थे ATM

मध्य प्रदेश पुलिस ने प्रदेश के पूर्वी हिस्से के जिलों में बैंक के एटीएम में विस्फोट करके लाखों रुपये की चोरी करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए इसके 6 सदस्यों को रविवार को गिरफ्तार किया है. मध्य प्रदेश पुलिस ने प्रदेश के पूर्वी हिस्से के जिलों में बैंक के एटीएम में विस्फोट करके लाखों रुपये की चोरी करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए इसके 6 सदस्यों को रविवार को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से 25 लाख रुपये से अधिक नकदी, दो देसी पिस्तौल, आठ कारतूस, डेटोनेटर, तीन बाइक, लैपटॉप और अन्य सामान बरामद किया है. सागर पुलिस रेंज के महानिरीक्षक (आईजी) अनिल शर्मा ने रविवार को यहां पत्रकारों को बताया कि गिरफ्तार किये गये आरोपियों की पहचान देवेन्द्र पटेल (28), जागेश्वर पटेल (27), नितेश पटेल (25), जयराम पटेल (32), राकेश पटेल (24) और परम लोधी (30) के तौर पर की गयी है.  आईजी ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में दमोह, जबलपुर, कटनी, और पन्ना जिलों में वर्ष 2019 और 2020 के बीच विभिन्न बैंकों के सात एटीएम में विस्फोट करके लाखों रुपयों की चोरी करने का जुर्म कबूल किया है. उन्होंने बताया कि इन पकड़े गए आरोपियों में से एक आरोपी देवेंद्र पटेल सिविल इंजीनियर है. वह पूर्व में यूपीएससी की परीक्षा दे चुका है तथा वह लगातार टीवी पर अपराध संबंधी कार्यक्रम देखकर नई-नई पद्धति से अपराध करने का तरीका तलाशता है. शर्मा ने बताया कि देवेंद्र के पास से 3 लाख 50 हजार के नकली नोट और नकली नोट बनाने की सामग्री भी जब्त की गई है. इसमें अलग से एक मामला दर्ज करके इसकी जांच की जाएगी कि इन नक़ली नोटों का उपयोग इनके द्वारा कहां और किस माध्यम से किया जाता था. उन्होंने कहा कि आरोपियों को जिलेटिन राड और डेटोनेटर किस माध्यम से और कहां से उपलब्ध होता था. इसकी भी जांच की जाएगी. शर्मा ने रविवार को डीआईजी छतरपुर विवेक राज, डीआईजी सागर आर एस डेहरिया, एसपी दमोह हेमंत चौहान, एसपी पन्ना मयंक अवस्थी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार सिंह की उपस्थिति में पत्रकार वार्ता में बताया कि इन बदमाशों द्वारा इस बात की जानकारी ले ली जाती थी कि किस एटीएम में नकद डालने वैन जा रही है. उसकी रेकी आरोपी करते थे और उस एटीएम मशीन में रात्रि में गार्ड के आने के पहले एटीएम कक्ष में प्रवेश कर कैशट्रे के पास जिलेटिन रॉड व डेटोनेटर लगा देते थे. बाद में मोटरसाइकिल की बैटरी से विस्फोट करके एटीएम मशीन को क्षतिग्रस्त कर देते थे और नकद लेकर फरार हो जाते थे तथा आपस में बराबर बांट लेते थे. उन्होंने बताया कि पुलिस ने आरोपियों से 25 लाख 57 हजार रुपए नकद, दो देसी पिस्टल, 8 कारतूस, डेटोनेटर, 3 लाख 50 हजार के नकली नोट, कलर प्रिंटर, तीन मोटरसाइकिल, दो मोबाइल, जिलेटिन रॉड एवं लैपटॉप जब्त किया गया है. उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपियों को आईपीसी की सम्बद्ध धाराओं में गिरफ्तार करके आगे और पूछताछ कर रही है. आरोपियों से और वारदातों का खुलासा होने की उम्मीद है.