रोशन मिर्जा का दावा दस लाख का मिला था ऑफर ऑडियो सपा ने हाईकमान को भेजा

रोशन मिर्जा का दावा दस लाख का मिला था ऑफर   ऑडियो सपा ने हाईकमान को भेजा

मध्य प्रदेश की राजनीति में  काफ़ी उठा-पटक वाला दिन चल रहा है कहीं वायरल हो रहे ऑडियो को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है तो कहीं  विवादास्पद टिप्पणी को लेकर बयान बाजी और सौदेबाजी की बातें सामने आ रही है|  सोशल मीडिया में कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का एक ऑडियो वायरल हो रहा था इसमें दिग्विजय सिंह ग्वालियर से सपा कैंडिडेट रोशन मिर्जा से बात कर रहे हैं| वह मिर्जा से कह रहे हैं कि आप के चुनाव लड़ने से भाजपा को फायदा होगा इसलिए नाम वापस ले लीजिए| दिग्विजय से जब इस ऑडियो पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह सत्य है और मैंने उसे हटने को कहा था क्योंकि हम सत्य से कभी पलटते नहीं है जो सही है वही कहते हैं यह कोई लालच या लोभ नहीं है कांग्रेस का कार्यकर्ता यदि निर्दलीय फार्म भरता है तो मेरी जवाबदारी बनती है कि मैं उससे प्रार्थना करूं कि आप नाम वापस ले लीजिए| उसकी शिकायत थी कि मेरी कोई सुनता नहीं है मुझे चुनाव लड़ना है वार्ड का| मैंने कहा नगर निगम चुनाव आएंगे तो लड़ायेंगे तुम्हें, इसमें क्या हो गया| दिग्विजय सिंह ने कहा की यह सत्य है और मैं कह कर पलटता नहीं हूं| ऑडियो के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा़ जो हम पर आरोप लगाते हैं उन पर ही आरोप साबित हो रहे हैं पैसे का ऑफर दिया जा रहा है अब यह साफ हो गया है कि खरीद-फरोख्त कौन करता है| वहीं सपा प्रत्याशी  रोशन मिर्जा ने भी ऑडियो को सही बताया मिर्जा ने यह भी दावा किया था उन्हें दस लाख का ऑफर भी मिला था एक तरफ यह पूरा कारनामा चल रहा है तो दूसरी ओर शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय चौहान दिग्विजय से मुलाकात कर आशीर्वाद लिया और हालचाल जाना|