MP BREAKING : मध्यप्रदेश में एक बार फिर होगा उपचुनाव

MP BREAKING : मध्यप्रदेश में एक बार फिर होगा उपचुनाव

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर मंगलवार को मतदान संपन्न हुए उपचुनाव में 69.93% मतदाताओं ने अपने मत का उपयोग किया अब सभी को 10 नवंबर का इंतजार है जब चुनाव परिणाम सामने आएंगे और प्रदेश की सत्ता पर कौन राज करेगा इसका फैसला हो जाएगा| भाजपा को बहुमत के जादुई आंकड़े तक पहुंचने के लिए इस चुनाव में मात्र 9 सीटे जीतने की जरूरत है लेकिन कांग्रेस को पूरी 28 सीटों की जरुरत होगी आपको बता दें कि देश में अभी उपचुनाव का दौर थमा नहीं है इस चुनाव के बाद एक बार फिर मध्य प्रदेश की जनता को चुनाव के लिए तैयार रहना होगा मध्यप्रदेश में आने वाले दिनों में उपचुनाव का एक और दौर आएगा दरसल उपचुनाव की स्तिथ दमोह सीट रिक्त होने से बनी है दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल सिंह लोधी ने उपचुनाव के बीच झटका देते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और 25 अक्टूबर को भाजपा में शामिल हो गए थे उनके इस्तीफे के बाद दमोह सीट रिक्त हो गई चुनाव आयोग द्वारा प्रदेश की 28 सीटों पर उपचुनाव संबंधी सभी कागजी कार्यवाही पूरी कर ली गई थी ऐसे में उस समय इन 28 सीटों के साथ दमोह में भी उपचुनाव करवा पाना संभव नहीं था इसलिए अब आने वाले दिनों में दमोह सीट पर भी उप चुनाव होगा संविधान के नियम अनुसार सीट रिक्त होने के 6 माह के अंदर चुनाव करवाना आवश्यक होता है ऐसे में दमोह सीट पर भी उप चुनाव जल्द ही संपन्न होगा गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में इसी साल मार्च में कांग्रेस के 22 विधायकों के त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल होने की वजह से उप चुनाव की नौबत आई इसके बाद कांग्रेस के तीन अन्य विधायक भी कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गए जिसके चलते उपचुनाव के हालात बने हालांकि आने वाले समय में उपचुनाव सिर्फ एक सीट पर होगा या उससे अधिक सीटों पर यह तय नहीं है क्योंकि आए दिन राजनेता दूसरे दल के विधायकों के संपर्क में होने के दावे करते हैं ऐसे में 28 सीटों के परिणाम आने के बाद प्रदेश की राजनीतिक परिस्थितियों पर उपचुनाव का स्वरूप निर्भर करेगा