MP: कंप्यूटर बाबा के आश्रम पर कार्यवाही, कांग्रेस विधायक ने दी प्रशासन को चेतावनी

MP: कंप्यूटर बाबा के आश्रम पर कार्यवाही, कांग्रेस विधायक ने दी प्रशासन को चेतावनी

मध्य प्रदेश में आज उस समय सियासी बवाल मच गया जब प्रदेश के पूर्व मंत्री कंप्यूटर बाबा के आश्रम पर अतिक्रमण हटाओ दस्ता ने पूरे बल के साथ पहुँच गया और एकड़ों में निर्मित आश्रम को धरासायी कर दिया जानकारी के अनुसार इस मामले को लेकर 2 महीने पहले ही प्रशासन के द्वारा नोटिस दिया गया था| इस कार्यवाही के बाद देपालपुर इंदौर से कांग्रेस विधायक विशाल पटेल ने प्रशासन को चेतावनी दी यदि गोमटगिरी आश्रम स्थित कलोता समाज के मंदिर कि यदि एक भी ईंट भी हिलाई गई तो समूचा कलोता समाज सड़कों पर उतरेगा और इसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी विधायक विशाल पटेल ने एक वीडियो संदेश जारी कर प्रशासन को चेताते हुए कहा की मुझे संज्ञान में आया है कि एक अमला सुबह जल्दी गोमटगिरी के लिए निकला है और गोमट गिरी आश्रम और मंदिर को तोड़ने की बात की जा रही है| लेकिन वह मंदिर कलोता समाज का मंदिर है और मंदिर पूरे समाज ने बनाया है इसके पहले जब वहां नोटिस जारी किया गया था तब मैं कह कर आया था कि अगर मंदिर की एक भी कील तोड़ी की गई तो समूचा कलोता समाज रोड पर आकर उग्र आंदोलन करेगा| वही कांग्रेस विधायक ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा गंदी राजनीति कर रही है आश्रम तोड़ना मंदिरों को तोड़ना और कालेजों को तोड़ना एक गंदी राजनीति और हीन भावना है| लेकिन जिला प्रशासन के इस कार्यवाही के दौरान कुछ लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है जिससे विवाद की स्थित निर्मित ना हो तस्वीरों में अप साफ़ तौर से देख सकते है की किस तरह से प्रशासन के द्वारा अवैध अतिक्रमण को खाली कराया जा रहा है| आपको बता दें कंप्यूटर बाबा द्वारा शासकीय भूमि में लगभग 2 एकड़ पर अनाधिकृत रूप से कब्जा किया गया था गौशाला निर्माण के वजाय उस पर आश्रम का निर्माण कर दिया जिसे मौके पर पहुंचे राजस्व प्रशासन द्वारा शासकीय भूमि के अनाधिकृत कब्जे से बेदखल किए जाने का आदेश पारित किया साथ ही अतिक्रमण नहीं हटाए जाने की स्थिति में प्रशासन द्वारा आज यह कार्यवाही की गई है और अतिक्रमण करता को पुलिस अभिरक्षा में लिया गया|