गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कही बड़ी बात, कहां- मैं बनूंगा को वैक्सीन का वॉलेंटियर

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कही बड़ी बात, कहां- मैं बनूंगा को वैक्सीन का वॉलेंटियर

कोरोना संक्रमण के बीच सभी को वैक्सीन का इंतजार था मध्यप्रदेश के भोपाल में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन के ट्रायल के बीच गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने एक बड़ा ऐलान किया है| वैक्सीन के ट्रायल के लिए वह खुद वॉलिंटियर बनेंगे| नरोत्तम मिश्रा ने कहा की ऐसा नहीं होगा कि मप्र में वैक्सीन ट्रायल के लिए लोग ना मिले मैं खुद तैयार हूं और अस्पताल प्रबंधन से बात करूंगा। अगर चेकअप के बाद वह फिट पाए जाते हैं तो फिर को वैक्सीनका ट्रायल वह अपने ऊपर करवाएंगे। बता दें कि देश में स्वदेशी कोरोना वैक्सीन का थर्ड फेस का ट्रायल चल रहा है। भोपाल में भी इसका ट्रायल किया जा रहा है लेकिन यहां पिछले 6 दिन में सबसे कम केवल 45 वॉलिंटियर्स को वैक्सीन के चयन के लिए सामने आए हैं जबकि अलीगढ़ में सबसे ज्यादा वॉलिंटियर ट्रायल के लिए सामने आए यही वजह है कि गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि वह खुद वॉलिंटियर बनने के लिए तैयार है। आपको बता दें कि कल ही मंत्री विश्वास सारंग ने कहा था कि भोपाल में को वैक्सीन के ट्रायल के लिए लोग नहीं मिल रहे हैं भोपाल के लोग इसमें दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं इसलिए अभी तक शहर के सिर्फ एक निजी मेडिकल कॉलेज में को वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो पाया है।वॉलिंटियर्स की संख्या कम होने के कारण दूसरे सरकारी मेडिकल कॉलेज में व्यवस्थाएं ट्रायल की शुरू नहीं हो पाई है।किसी भी बॉक्सिंग का अलग-अलग चरणों में ट्रायल किया जाना जरूरी होता है ट्रायल सफल होने के बाद यह से आम लोगों तक इस्तेमाल की अनुमति दी जाती है कोरोनावायरस के लिए यूं तो दुनिया भर में कई बॉक्सिंग मर रही है लेकिन स्वदेशी वैक्सीन को राखी इसका भारत में थर्ड फेस का ट्रायल चल रहा है ऐसे में अगर वॉलिंटियर्स ट्रायल के लिए सामने नहीं आएंगे तो फिर इसके आने में और वक्त लग सकता है इन परिस्थितियों को देखते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि वह खुद को वैक्सीन के ट्रायल के लिए वॉलिंटियर बनेंगे।