रेल यात्रा में महिला को हुई प्रसव पीड़ा , शिशु को दिया जन्म , लॉक डाउन रखा नाम

रेल यात्रा में महिला को हुई प्रसव पीड़ा , शिशु को दिया जन्म , लॉक डाउन रखा नाम

कोरोना काल एक अनुभव की तरह है किसी के लिए सुखद तो किसी के लिए दुखद है। यह किसी से नहीं छुपा की कोरोनावायरस के चलते लॉक डाउन में बहुत हानि हुई लेकिन इसी दरमियान कुछ ऐसे किस्से सामने आए जो बेहद रोचक है। एक ऐसे ही किस्से  की बात कर रहे हैं जहां एक महिला ने शिशु को जन्म दिया और शिशु का नाम लॉक डाउन यादव रखा गया।  ये नाम कितना अद्भुत है इसे सुनकर आप समझ रहे होंगे। अब हम आपको पूरा किस्सा बताते हैं कि कैसे बच्चे का नाम लॉक डाउन यादव रखा गया। दरअसल मध्यप्रदेश के बुरहानपुर से शुक्रवार रात को रुकी विशेष श्रमिक ट्रेन में सवार 32 वर्षीय महिला ने स्थानीय शासकीय जिला अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया जिसका नाम लॉकडाउन यादव रखा गया। बता दे नवजात बच्चे के पिता उदय भान यादव ने बताया कि लॉक डाउन कि इन स्थितियों में पैदा हुए अपने बच्चे का नाम वह लॉकडाउन यादव रखना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि ट्रेन में प्रसव पीड़ा होने पर उन्होंने रेलवे हेल्पलाइन से संपर्क किया और अधिकारियों ने बुरहानपुर में उनकी मदद की और उन्हें अस्पताल ले गए जहां महिला ने बच्चे को जन्म दिया और अब बच्चा और जच्चा दोनों ही स्वस्थ हैं। जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढाईच ने शनिवार को बताया कि रीना अपने पति उदय भान सिंह यादव के साथ मुंबई से उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर के लिए श्रमिक विशेष ट्रेन में यात्रा कर रही थी। शुक्रवार शाम को ट्रेन में प्रसव पीड़ा होने पर जिला चिकित्सालय लाकर महिला का प्रसव कराया गया। प्रशासन ने यादव परिवार को नगद ₹5000 की सहायता राशि भी दी और खाने-पीने का सामान फल दवाइयां और आवश्यक कपड़े भी दिए गए। कलेक्टर ने बताया कि प्रशासन द्वारा पूरे परिवार को निजी वाहन से उनके घर अंबेडकर नगर के लिए रवाना किया गया है।