मध्य प्रदेश में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7645 हुई

मध्य प्रदेश में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7645 हुई

 

ध्य प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के 192 नए मामले सामने आने के साथ ही राज्य में कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 7,645 हो गई है. वहीं, राज्य में कोरोना संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 334 पहुंच गया है.मध्य प्रदेश के एक अधिकारी ने कहा कि राज्य में अब तक कोरोना वायरस से सबसे अधिक 126 मौतें अकेले इंदौर में हुई हैं, जबकि उज्जैन में 55, भोपाल में 54, बुरहानपुर में 14, खंडवा में 13 और खरगोन में 10 मरीजों की मौत हुई है. राज्य के कुल 52 में से 51 जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले आ चुके हैं.

राजधानी भोपाल में 879 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं. फिलहाल पॉजिटिव एक्टिव मरीजों की संख्या 443 है मगर कई इलाकों में अभी भी कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं जिसने प्रसाशन की नींद उड़ा दी है.

बढ़ते आंकडों की चिंता में अब आला अधिकारी सड़कों पर उतर आए हैं. भोपाल कमिश्नर कवींद्र कियावत, भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े और डीआईजी इरशाद वली ने शहर के कई हिस्सों का जायजा लिया, जहां कोरोना को लेकर लोग अभी भी जागरूक नजर नहीं आ रहे है. भोपाल के इंदिरा नगर, शाहजहांनाबाद और छोला रोड ओर शहर के कई कंटेनमेंट क्षेत्रों का उन्होंने निरीक्षण किया.कलेक्टर भोपाल ने लोगों को समझाया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं. कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देश भी दिए है कि इन अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में पाए गए कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क वाले प्रत्येक व्यक्ति की पहचान कर उन्हें आइसोलेट, क्‍वारंटाइन और स्वास्थ्य उपचार देने के लिए अलग किया जाए. कलेक्टर ने निर्देश दिए है कि इन सभी क्षेत्रों में संक्रमित व्यक्तियों की पहचान होने पर सभी व्यक्तियों की स्क्रीनिंग, जांच और उपचार किया जाए जिससे संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. साथ ही इन क्षेत्रों में लाउडस्पीकर से रेगुलर अनाउंसमेंट किया जाए.