बालेंदु शुक्ल ने भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थामा, भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उन्हें पार्टी में शामिल कराया

बालेंदु शुक्ल ने भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थामा, भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उन्हें पार्टी में शामिल कराया

 

 

पूर्व मंत्री बालेंदु शुक्‍ल ने भारतीय जनता पार्टी का  साथ  छोड़कर शुक्रवार को कांग्रेस की सदस्‍यता ले ली। ग्‍वालियर क्षेत्र के वरिष्‍ठ नेताओं में गिने जाने वाले पूर्व मंत्री 74 वर्षीय बालेंदु शुक्‍ल ने भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के निवास पर पहुंचे और वहां पर कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा की। इस दौरान कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मौजूद थे। हालांकि राजधानी में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और चेहरे पर मास्क लगाना अनिवार्य है, लेकिन इस कार्यक्रम में नियमों को दरकिनार किया गया। चेहरे पर मास्‍क भी एक-दो नेताओं ने ही पहना था। ऐसे बड़े नेताओं द्वारा असी लापरवाही देखन इ पर प्रदेश की जनता को अब क्या सन्देश पहुंचता हैं


ग्वालियर के कद्दावर नेता माने जाने वाले बालेंदु शुक्‍ल और स्‍वर्गीय माधवराव सिंधिया के बीच खासी घनिष्‍ठता रही थी। सन 1980 में सिंधिया ही उन्‍हें नौकरी छुड़वाकर राजनीति में लाए थे। बाद में 2008 में वह भाजपा में शामिल हो गए थे। बालेंदु शुक्ल का भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल होना आगामी विधानसभा उपचुनावों को देखते हुए महत्वपूर्ण माना जा रहा है। आने वाले दिनों में कुछ और नेता दल-बदल सकते हैं।