Indian Railways: रेलवे का प्लान है, इन राज्यों की राजधानी को आपस में जोड़ने की तैयारी में है

Indian Railways: रेलवे का प्लान है, इन राज्यों की राजधानी को आपस में जोड़ने की तैयारी में है

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा कि इस समय उत्तर-पूर्व में असम, त्रिपुरा और अरुणाचल की पहले से रेल नेटवर्क जुड़ चुकी है. रेलवे के मुताबिक 2023 तक उत्तर-पूर्वी सभी राज्यों और राजधानिया रेल नेटवर्क से जुड़ जाएगी भारतीय रेलवे यात्रियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के साथ नई उपलब्धियां हासिल कर रहा है. इंडियन रेलवे विकास के क्षेत्र में रेल नेटवर्क को बढ़ाने की भी कोशिश कर रहा है. इसी कड़ी में रेलवे बोर्ड अब उत्तर-पूर्व राज्यों की सभी राजधानियों को रेल नेटवर्क से जोड़ने की दिशा में काम कर रहा है. Indian Railways के मुताबिक तीन साल बाद यानी 2023 तक उत्तर-पूर्वी राज्यों की सभी राजधानियां रेल नेटवर्क से जुड़ जाएंगी. रेलवे बोर्ड के मुताबिक इंडियन रेलवे में पिछले 5 साल में काफी विकास देखने को मिला है. रेल कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए रेलवे पूर्वोत्तर के सभी राज्यों की राजधानियों को आपस में रेल नेटवर्क से जोड़ने की तैयारी में है. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा कि इस समय उत्तर-पूर्व में असम, त्रिपुरा और अरुणाचल की राजधानियां पहले से ही रेल नेटवर्क से जुड़ चुकी हैं. अब मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड और सिक्किम की राजधानियों की रेल कनेक्टिविटी की तैयारी है. रेलवे ने इसके लिए प्लान भी तैयार कर लिया है. रेलवे अगले तीन सालों में यानी 2013 तक इस काम को पूरा करने की दिशा में काम कर रहा है. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के मुताबिक मणिपुर और मेघालय मार्च 2022 तक, मिजोरम और नगालैंड मार्च 2023 तक और सिक्किम दिसंबर 2023 तक कनेक्ट करने की योजना है. बता दें कि इंडियन रेलवे का जम्मू-कश्मीर में भी रेल नेटवर्क के विस्तार पर पूरा फोकस है. कटरा से बनिहाल सेक्शन का काम 2022 के दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा. कश्मीर में इंडियन रेलवे भारत का पहला केबल रेल ब्रिज बना रहा है. कटरा-बनिहाल रेलवे ट्रैक पर देश का पहला केबल रेल पुल बन रहा है. जम्मू-कश्मीर में माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटरा और रियासी के बीच अंजी ब्रिज बनाया जा रहा है.