रेलवे ने जारी की कुछ विशेष जानकारी : बोला बीमार, बुजुर्ग और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे यात्रा न करें

रेलवे ने जारी की कुछ विशेष जानकारी : बोला बीमार, बुजुर्ग और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे यात्रा न करें

 

 

रेलवे ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए श्रमिक ट्रेन में वृद्ध, गर्भवती महिला, बीमार व 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की श्रमिक ट्रेन में यात्रा करने पर नए आदेश जारी किए है। रेलवे ने यह निर्देश कुछ दिन पूर्व 9 बीमार श्रमिकों की यात्रा के दौरान हुई मौत के बाद लगाई है। रेलवे ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए श्रमिक ट्रेन में वृद्ध, गर्भवती महिला, बीमार व 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की श्रमिक ट्रेन में यात्रा करने पर नए आदेश जारी किए है। रेलवे ने यह निर्देश कुछ दिन पूर्व 9 बीमार श्रमिकों की यात्रा के दौरान हुई मौत के बाद लगाई है। इस बारे में रेलवे ने आदेश सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म ट्वीटर सहित वीडिओ जारी कर दिए है। जारी आदेश में लिखा गया है कि रेलवे देशभर में कई श्रमिक ट्रेन चला रहा है, लेकिन इस प्रकार के मामले में भी आए है कि कुछ इस प्रकार के लोग ट्रेन में यात्रा कर रहे है जो पहले से विभिन्न बीमारी से ग्रसीत है। इससे यात्रा के दौरान उनकी मृत्यु हुई है। इस प्रकार के लोगों की सुरक्षा के लिए 17 मई को रेलवे व गृह मंत्रालय ने आदेश जारी किए है। इसलिए विभिन्न बीमारी से ग्रसीत यात्री, 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे व 65 वर्ष से अधिक उम्र के वृद्ध रेल यात्रा करने से बचे।

यह बीमारी तो नहीं करें रेल यात्रा 

रेलवे के अनुसार उच्च रक्तचाप, मधुमेह, हदय रोग, कैंसर, कम प्रतिरक्षा के मरीज, गर्भवती महिलाएं, 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, 65 वर्ष से अधिक उम्र के वृद्ध अपने स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए जब तक जरूरी नहीं हो, यात्रा नहीं करें। असल में कुछ दिन पूर्व ट्रेन में यात्रा करने के दौरान ट्रेन से लेकर प्लेटफॉर्म तक यात्रियों की मृत्यु हुई थी। इसके बाद ही रेलवे ने इस आदेश को जारी किया है। रेल मंडल में ही बड़ी संख्या में विभिन्न स्थान से आई श्रमिक ट्रेन में कई बच्चे अपने परिवार के साथ आए थे। इसके अलावा श्रमिक व मजदूरों के साथ वृद्ध परिजन भी आए थे। अब इन सभी श्रेणी के यात्रियों को रेलवे ने सलाह दी है कि वे जहां तक हो वे अपनी यात्रा करने से परहेज करें।