राहुल गांधी के बयान पर जावड़ेकर का पलटवार, आपातकाल के दौरान देश में दिखी थी गद्दाफी व सद्दाम की झलक

राहुल गांधी के बयान पर जावड़ेकर का पलटवार, आपातकाल के दौरान देश में दिखी थी गद्दाफी व सद्दाम की झलक

 राहुल गांधी ने संसद में अपना माइक बंद किए जाने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। इतना ही नहीं, भारत के हालात को बदतर बताते हुए उन्होंने यह भी कह डाला कि गद्दाफी और सद्दाम हुसैन भी अपने देशों में चुनाव कराकर जीतते रहे हैं। अब उनके इस बयान पर भाजपा ने पटलवार किया है और कहा कि देश में आपातकाल के दौरान ही गद्दाफी और सद्दाम जैसा समय देखने को मिला था। 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि राहुल गांधी की बातों पर टिप्पणी करना बेकार है, क्योंकि वे विचार ही नहीं करते। पता नहीं वे किस ग्रह पर रहते हैं। देश के लोकतंत्र की तुलना गद्दाफी और सद्दाम हुसैन से करना जनता का अपमान है। 80 करोड़ मतदाताओं का अपमान है। केवल आपातकाल के सालों के दौरान  हमने गद्दाफी और सद्दाम जैसा समय देखा। 

राहुल गांधी ने कहा था कि खुद भाजपा नेता संसद में उनसे कहते हैं कि उनको किसी भी मुद्दे पर खुलकर बोलने की आजादी नहीं इस पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा कि उन्हें लगता है कि राहुल गांधी को भी पार्टी इजाजत नहीं दे रही। वे कुछ भी बोलते रहते हैं। उनकी बात पर जवाब देना बंद कर देना चाहिए।