सभी संघठनों के द्वारा किया जा रहा केंद्र सरकार विरोध

सभी संघठनों के द्वारा किया जा रहा केंद्र सरकार विरोध

देश के कई संगठनों एवं दलों के साथ हीं 100 से ज्यादा किसान संगठन के द्वारा केंद्र सरकार के विरोध में श्रम कानून और कृषि कानूनों में किए गए बदलाव को लेकर राष्ट्रव्यापी हड़ताल की जा रहा है| इसी कड़ी में रीवा में भी सरकार के खिलाफ नारे के स्वर गूंजे| कांग्रेस के शहर अध्यक्ष गुरमीत सिंह मंगू एवं सीटू के जिला अध्यक्ष गिरिजेश सिंह सेंगर समेत और भी कई संगठनों के द्वारा देशव्यापी हड़ताल की गई| उन्होंने जानकारी देते हुए बताया की रीवा में भी कई संगठनों एवं किसानों के दल मिलकर सरकार का पुरजोर विरोध कर रहे है| सभी दलों का कहना है की केंद्रीय पार्टी का जो निर्देश रहेगा उसी निर्देश से और भी बड़ा उग्र आंदोलन किया जाएगा उन्होंने बताया कि पूरे देश में सभी किसान बंधु कृषि कानून एवं श्रम कानून पर किए गए बदलाव के खिलाफ दिल्ली कूच कर रहे हैं लेकिन सरकार के द्वारा उन बेबस किसानों पर लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे हैं जो कि निंदनीय है | सभी संगठनों एवं दलों की मांग है कि गैर आयकर दाता परिवारों के लिए ₹75 प्रति माह नगद हस्तांतरण किया जाए, जरूरतमंदों को प्रति व्यक्ति प्रति माह 10 किलो मुफ्त राशन दिया जाए एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 1 साल में 200 दिनों के काम को बढ़ाने के लिए मनरेगा का विस्तार किया जाए इसी तरह और भी कई मांगों को लेकर सभी संगठन एवं दल हड़ताल करते हुए कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंच कर ज्ञापन सौंपा है इतना ही नही उन्होंने सरकार को चेताते हुए कहा की अगर सरकार किसानों की मांगे 2 से 3 दिन में पूरी नहीं की तो और भी बड़ा उग्र आंदोलन किया जाएगा