लॉक डाउन के समय में चल रही काला बाजारी,सामाजिक कार्यकर्त्ता बीके माला ने किया विरोध

लॉक डाउन के समय में चल रही काला बाजारी,सामाजिक कार्यकर्त्ता बीके माला ने किया विरोध

कोरोना वायरस जैसे वैश्विक महामारी के दौर में भी कालाबाजारी शुरू है| जी हां आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन देश में 50 पीसदी अधिकतम दर पर पीपीई किट खरीदी जा रही है ऐसा ही आरोप  रीवा के सामाजिक कार्यकर्ता बी के  माला ने लगाया है।  सामाजिक कार्यकर्ता का मानना है देश में इस विषम परिस्थिति में भी भ्रष्टाचार हो रहा है पीपीई किट अपने दर से 50 फ़ीसदी अधिक में खरीदे जाने का मामला सामने आया है संभवत यहां पर व्यापक भ्रष्टाचार हुआ होगा इस विषय की गंभीरता से जांच कराई जानी चाहिए और एक कमेटी बनाकर परीक्षण किया जाना चाहिए किस दर पर  पी पी इ किट खरीदी जाये और ऐसी ही किट रीवा में भी लाई गई है पी पी इ किट को लेकर जिस तरह से ख़ुलासे हो रहें हैं वह हैरान करने वाले हैं ऐसे में सामाजिक कार्यकर्ता बी के माला के द्वारा उठाई गई आवाज पर  भी ध्यान देना चाहिए |