नौरोजाबाद में आधार कार्ड के नाम पर मची लूट, 500 रुपये की होती है माँग

नौरोजाबाद में आधार कार्ड के नाम पर मची लूट, 500 रुपये की होती है माँग

उमरिया जिले के नौरोजाबाद के तहसील कार्यालय के अंदर आधार  कार्ड बनाने के नाम पर ग्रामीण क्षेत्रों से आ रहे लोगों के द्वारा अधिक पैसा लेने के आरोप्लागाये जा रहे है| तहसीलदार के नाक के नीचे ये सब खेल चल रहा है  लेकिन प्रशासन इसे नज़र अंदाज़ करते नज़र आ रहा हैं| प्रशासन की अनदेखी के कारण इन लोगो के हौसला और बुलंद होते जा रहे है|

नारायण सिंह निवासी डगडउआ के द्वारा बताया गया की मैं अपनी पत्नी के साथ तहसील कार्यालय नौरोजाबाद में आधार कार्ड गुम जाने के कारण नया आधार कार्ड बनवाने के लिए आया था| मेरे पास सभी दस्तावेज उपलब्ध थे लेकिन जब मैं तहसील कार्यालय में पहुंचकर  आधार कार्ड बनाने वाले से मिला तो उसके द्वारा बोला गया कि आधार कार्ड कम्प्लीट करके आपको 500 रूपये लगेगा| उनके पास इतना पैसा न होने के कारण वह जान पहचान के लोगों से संपर्क करने लगे| इस बात की जानकारी जब मीडिया को लगी तो मीडिया के द्वारा आधार कार्ड बनाने वाले से बात की गई तो उनके द्वारा बोला गया कि k. V. C  हम नहीं करते बाहर से कराना पड़ेगा और गोल मोल जवाब देते नजर आये| उसके बाद तहसीलदार को फोन में जानकारी दी गई| तहसीलदार के द्वारा बोला गया कि मैं अभी बाहर हूँ आ के इस मामले को देखता हूँ| नारायण सिंह के द्वारा बताया गया कि मैं  K.V.C बाहर से करवाया तो उसमें 100 रूपये लगे और उसके बाद तहसील कार्यालय में आ के जमा किया तो 110 रुपये  में मेरा आधार कार्ड कम्प्लीट हुआ तो ये 500 रुपये किस लिए ले रहे थे| बाकी के पैसे किसकी जेब में जा रहे थे इस मामले को ज़िला प्रशासन को संज्ञान में लेते हुए संबंधित लोगों के ऊपर उचित कार्रवाई करनी चाहिए| नौरोजाबाद से संदीप तिवारी की रिपोर्ट