लॉक डाउन में यूपी से पैदल घर जा रहे थे श्रमिक सांप ने काटा, हुई मौत

लॉक डाउन में यूपी से पैदल घर जा रहे थे श्रमिक सांप ने काटा, हुई मौत

लॉक डाउन के कारण आधा दर्जन मजदूर रविवार की रात पैदल सीधी जा रहे थे जहां रास्ते में एक मजदूर को सांप ने काट लिया। उसे देर रात उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना खटखरी चौकी के पिड़रिया गांव की है।

सीधी जिले के कमर्जी थाना क्षेत्र से आधा दर्जन मजदूर खेत काटने के लिए यूपी के प्रयागराज जिला अन्तर्गत ग्राम देवा गए थे जहां वे मजदूरी कर रहे थे। रविवार की रात सभी  मजदूर पैदल अपने अपने घर जा रहे थे। रात में जंगल के रास्ते से गुजर रहे मजदूर करीब ढाई बजे  जैसे ही खटखरी चौकी के पिड़रिया जंगल के समीप पहुंचे तभी सड़क के किनारे स्थित झाड़ी में छिपे सांप ने मजदूर विनोद कोल के पैरों में काट दिया। घटना की जानकारी जैसे ही पीडि़त के साथियों को हुई तो हड़कंप मच गया। सभी साथी रात में उसे खटखरी लेकर आए जहां से उसको हनुमना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया। यहां पहुंचने पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बता दे सभी मजदूर पन्द्रह मार्च में  यूपी में खेत काटने गए थे और एक माह तक वहां मजदूरी कर रहे थे। वे घर लौटने के लिए लॉक डाउन खत्म होने का इंतजार कर रहे थे। जब लॉक डाउन  नहीं खुला तो सभी मजदूर वहां  से पैदल ही अपने घर लौटने के लिए निकल पड़े। एमपी बार्डर तक वे ट्रक में सवार होकर आए और वहां से पैदल अपने घर सीधी जा रहे थे। रात करीब ढाई बजे यह हादसा हो गया। सभी मजदूर जड़कुड़ पहाड़ के रास्ते अपने घर वापस जाने वाले थे। पहाड़ के दूसरे ओर कमर्जी थाना की सीमा शुरू हो जाती है। खटखरी चौकी पुलिस ने मजदूर के शव का पोस्टमार्टम कराया और एम्बुलेंस से शव को पुलिस ने घर भिजवा दिया। इस घटना का शिकार होने वाले श्रमिक के सभी साथी भूखे थे। उन्होंने रविवार से कुछ नहीं खाया था और भूखे प्यासे ही वे अपने घर जा रहे थे। इस बात की जानकारी होने पर खटखरी पुलिस ने समाजसेवियों की मदद से उन सभी को भोजन कराया और उसके बाद उन्हें अपने घर भिजवा दिया।