निगम कर्मियों की बड़ी लापरवाही, अधजला शव छोड़कर भागे निगमकर्मी||

निगम कर्मियों की बड़ी लापरवाही, अधजला शव छोड़कर भागे निगमकर्मी||

पिछले दिनों सतना से रीवा आये कोरोना मरीज हीरालाल सिंह की मौत हो गई। उनकी मौत के बाद उनके  परिवार का कोई भी व्यक्ति रीवा नहीं पहुंच सका जिसके कारण नगर निगम रीवा ने ही कोरोना मरीज हीरालाल सिंह का अंतिम संस्कार करने का फैसला लिया। लेकिन अंतिम संस्कार में नगर निगम रीवा की बड़ी लापरवाही सामने आई। दरअसल जो तस्वीरें सामने आई उसमें यही देख रहा है कि निगमकर्मी शव को जलाने के बाद तुरंत ही वहां से निकल गए। निगम कर्मियों पर यह भी आरोप लगाया जा रहा है की शव पूरी तरीके से जला नहीं था और जो पीपीई किट पहनकर अंतिम संस्कार किया गया था टीम के सदस्य ने बिना किट जलाएं लापरवाही पूर्वक किट वहीं पर फेंक कर चले गए। स्थानीय जनों ने जब यह देखा तो कही न कही उन्हें संक्रमण का खतरा सताने लगा और तुरंत ही इस बात पर आवाज उठाई| धीरे-धीरे यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इस खबर के फैलने के बाद निगम कर्मी दोबारा उस जगह पर पहुंचे और चिता में दोबारा लकड़ी डाली गई। निगम प्रशासन ने इस बात का खंडन किया है और कहा है कि शव का अंतिम संस्कार अच्छी तरीके से किया गया था और लोगों के आरोप के बाद दोबारा मुआयना किया गया और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दोबारा चिता पर लकड़ी डाली गई| अब इसे हम डर कहे या लापरवाही लेकिन इस खबर के बाद से लोग संक्रमण को लेकर और चिंतित हो गए है|