रीवा जिले के डभौरा के छिपिया गांव में मनाई गई बिरसा मुंडा जयंती

रीवा जिले के डभौरा के छिपिया गांव में मनाई गई बिरसा मुंडा जयंती

डभौरा के छिपिया गांव में भगवान बिरसा मुंडा की जयंती हमारा ग्राम अधिकार अभियान संगठन के बैनर तले मनाई गई। यहां लोगों ने भगवान बिरसा के  प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। समाजसेवी जगदीश सिंह यादव ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा के आदर्शों पर चलकर हम उनके प्रति सच्ची श्रद्धा दिखा सकते हैं। साथ ही जल जंगल जमीन को बचाना हमारी पहली प्राथमिकता है। मौके पर कई लोगों ने भगवान बिरसा मुंडा की जीवनी पर प्रकाश डाला। अमर शहीद बिरसा मुंडा के जयकारों से गूंज उठे छिपिया गांव में आये हुए हजारो आदिवासियों ने बिरसा मुंडा को अपना भगवान मानकर उनकी प्रतिमा पर 5 हजार पूड़ियाँ चढाये।कार्यक्रम में आदिवासियों के परम्परागत गीतों के साथ साथ "ये धरती न तेरी है,न मेरी है"गीत गाकर व मंच पर पूरे कार्यक्रम के दौरान व्यक्ति का तीर धनुष लेकर खड़े रहना लोगो के लिए आकर्षण का केंद्र रहा।।कार्यक्रम में बहिनी दरबार की प्रमुख विवेचना के साथ साथ उनकी पूरी टीम का सफल आयोजन के लिए महत्वपूर्ण योगदान रहा।इस अवसर पर , बृजेन्द्र पांडेय,अनिल गुप्ता,मोहनलाल आदिवासी, सहित अन्य लोग उपस्थित थे।