नौवीं से 12वीं की छमाही परीक्षा शुरू, ओपन बुक पैटर्न में दिए जा रहे एग्जाम।

नौवीं से 12वीं की छमाही परीक्षा शुरू, ओपन बुक पैटर्न में दिए जा रहे एग्जाम।

कोरोना संक्रमण के बीच लंबे समय बाद अब सरकारी स्कूलों में चहल-पहल देखने को मिली है वरूण धवन के चलते सरकारी स्कूलों में शुक्रवार से नौवीं से बारहवीं तक के बच्चों के ओपन बुक पैटर्न पर छमाही परीक्षा शुरू हुई है। इसे ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे बच्चों का रिवीजन टेस्ट नाम दिया गया है यह टेस्ट 28 नवंबर तक चलेंगे।बता दें कि ज्यादातर बच्चे गुरुवार को आंसर शीट घर ले गए थे उन्होंने पेपर डाउनलोड कर घर नहीं परीक्षा दी है वहीं कुछ बच्चे स्कूल पहुंचे हैं और उन्हें स्कूल में ही बैठा कर परीक्षा दिलाई जा रही है पूरी सावधानी के साथ।बता दें कि स्कूलों में बच्चों की खासी भीड़ रही इसके चलते सोशल डिस्टेंसिंग थोड़ी कम दिखी राजधानी के सरकारी स्कूलों में शुरू हुए ओपन बुक एग्जाम में करीब 70 फ़ीसदी विद्यार्थियों ने घर पर प्रश्न पत्र ले जाकर परीक्षा दी है। वही 30 फ़ीसदी विद्यार्थियों ने स्कूल पहुंचकर किताब रखकर परीक्षा दी।कक्षा नौवीं दसवीं की परीक्षा सुबह 10:00 से 12:00 बजे तक चली वही 11वीं व 12वीं के परीक्षा दोपहर 12:30 से 2:30 बजे तक ली गई। बता दें कि क्वेश्चन पेपर में बेसिक कोर्स से प्रश्न पूछे गए हैं ताकि विद्यार्थियों को उन्हें हल करने में परेशानी ना हो।छमाही परीक्षा सभी विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य की गई है इससे सभी स्कूलों में प्रायः सभी विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए हैं बताया जाता है कि इस परीक्षा के नंबर वार्षिक परीक्षा यानी एनुअल एग्जाम में जोड़कर रिजल्ट बनाया जाएगा।हालांकि इसके अभी कोई स्पष्ट निर्देश नहीं है लेकिन कोरोनावायरस ते कॉलेजों की तरह इंटरनल एसेसमेंट के आधार पर रिजल्ट बनाने की संभावना दिखाई दे रही है।