सिलपरा फेज -2 रिंग रोड निर्माण में गांव के किसानों द्वारा किया जा रहा विरोध

सिलपरा फेज -2 रिंग रोड निर्माण में गांव के किसानों द्वारा किया जा रहा विरोध

सिलपरा फेज -2 रिंग रोड निर्माण में अनियमित भूमि अधिग्रहण के संबंध में स्थानीय लोगों ने संभाग आयुक्त कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा है।जानकारी के अनुसार दर्जन भर आये किसानों का कहना है की सिलपरा फेज निर्माण में भूमि अधिग्रहण कर्मचारियों द्वारा लोगो को सितम्बर – अक्टूबर 2020 में जमीनो का जो भाग अधिग्रहण किया जाना बताया गया था अब अधिग्रहण के समय पूर्व में बताई गई सीमा से बहुत अधिक जमीनों को अधिग्रहित किया जा रहा है जिससे सैकड़ों किसानो की आजीवका खोने की कगार पर है इतना ही नही कहा जा रहा है कि अपील का समय समाप्त हो गया है । जिससे हम लोगो के जीवनयापन का संकट खड़ा हो गया है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया की सिलपरा गाँव मलैया टोला की पूरी बस्ती अधिग्रहित हो रही है जिससे अधिग्रहण की नई सीमा देखने से पता चलता है कि राजनैतिक दबंगो को रिंग रोड का अत्यधिक लाभ देने के लिए अधिग्रहण अधिकारियों द्वारा हेराफेरी करके गरीबो को अत्यधिक नुकसान पहुचाया जा रहा हैं । मीडिया से चर्चा करते हुए किसानों का कहना है की पुरानी सिलपरा रिंग रोड जो गोविन्दगढ़ रोड से मिलती है वहाँ से तीन - चार सौ मीटर पहले फ्लाई ओवर की दिशा परिवर्तन करना अधिकारियों की मिली भगत का दर्शाता है इस कार्य से दुखी किसानो ने मांग की है की इस समस्या का निदान कर गरीब किसानों को न्याय दिलाया जाय।