संजय त्रिपाठी ने श्रीधर द्विवेदी के द्वारा की गई शिकायत को बताया गलत

संजय त्रिपाठी ने श्रीधर द्विवेदी के द्वारा की गई शिकायत को बताया गलत

परशुराम आश्रम के अतिक्रमण का मामला तूल पकड़ता जा रहा है जा रहा है प्रसाशन के द्वारा बिगत दिनों पूर्व परशुराम आश्रम का निर्माण एन एच आई कि जमीन पर पिछले कई वर्षों से कब्जा होने के कारण पुलिस बल एवं प्रसाशनिक अधिकारियों की मदत से एन एच आई की जमीन को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए आश्रम को धरासाई कर दिया गया जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी सहित कईं संगठन के कार्यकर्ताओं एवं साधू संतो के द्वारा लगातार स्थानीय विधयाक एवं रीवा प्रसाशन का विरोध किया जा रहा है अखिल भारतीय ब्राम्हण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय त्रिपाठी भी आश्रम के गिरने बाद अगले वहां पहुंच गए उनके द्वारा इटौरा परशुराम आश्रम में साधु संतो परशुराम आश्रम को ट्रस्ट में देने की बात कही और साधु संतों को ढाढस बधाया लेकिन संजय त्रिपाठी के वहां जाने के बाद विवाद बढ़ गया है परसुराम आश्रम के अध्यक्ष श्रीधर द्विवेदी ने एसपी कार्यालय पहुंचकर संजय त्रिपाठी के नाम पर शिकायत की जिस पर संजय त्रिपाठी ने मीडिया को जानकारी देते बताया की बिगत दिनों पहले हमारे ऊपर परसुराम आश्रम के अध्यक्ष श्री धर द्विवेदी के द्वारा एसपी कार्यालय में गलत शिकायत की गई है साथ यह भी बताया गया है की साधू संतो को डराया धमकाया गया जो की पूर्ण रुपेंण से गलत है त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया की जिस समय वहां गया था तो वहां पर मीडिया के कर्मी भी मौजूद थे लेकिन राजनीति के चलते मेरे खिलाफ षड्यंत्र रचा जा रहा है और फर्जी शिकायत की गई है आंगे उन्होंने ने कहा की अगर परशुराम आश्रम में किसी भी साधु संत एवं श्रीधर द्विवेदी के साथ किसी भी तरह के हादसे होते है तो इसमें हमारी कोई जिम्मेदारी नही होगी|