प्रदेश भर के तहसीलदार और नायब तहसीलदार हुए कलम बंद

प्रदेश भर के तहसीलदार और नायब तहसीलदार हुए कलम बंद

राजस्व अधिकारी संघ के पदाधिकारियों के द्वारा सतना एवं कोतमा जिले में नायब तहसीलदार के ऊपर हुए हमले प्रशासन के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं किए जाने को लेकर सभी प्रदेश के तहसीलदार ने कार्य से बहिष्कार किया है राजस्व अधिकारी संघ के कार्यकारी जिलाध्यक्ष नितिन तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले को टाला जा रहा है जनता के हितों के कार्य करने वाले तहसीलदार जब फील्ड में जाते हैं तो उनके साथ आरोपियों के द्वारा गाली-गलौज किया जाता है बीते दिनों सतना और कोतमा में हुई घटना ने समस्त तहसीलदार का अपमान किया है उन्होंने बताया कि शासन के द्वारा इस तरह की हुई घटनाओं के आरोपियों को गिरफ्तार करने को लेकर मांगे की गई हैं एवं इस मामले पर कार्यवाही करने के लिए पत्र जारी किये गए है लेकिन शासन के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई इस कारण से सभी प्रदेश के तहसीलदार और नायब तहसीलदार कलम बंद कर आज से  अपने कार्य से बहिष्कार किया और जब तक मांगे पूरी नहीं होगी तब तक वह कार्य पर नहीं लौटेंगे