प्रवासी मजदूरों के लिए तत्पर बजरंगदल, राहगीरों को भोजन पानी और जूस की भी कराई जाती है व्यवस्था

प्रवासी मजदूरों के लिए तत्पर बजरंगदल, राहगीरों को भोजन पानी और जूस की भी कराई जाती है व्यवस्था

गरीबों तक सरकारी मदद पहुंचना आसान इतना आसन नहीं हैं। इस लॉक डाउन के दरमियान यदि समाजसेवी संगठनों ने सेवा भाव से गरीबो को भोजन नहीं कराया होता तो वो प्रवासी मजदूर जो तपती दोपहरिया में भी यात्रा करते हैं भूखे रह जाते बात करते हैं रीवा की जहा समाजिक संगठनों ने गरीबो की भरपूर मदद की आज बरा कोठार बाईपास रीव में शिव महाशक्ति रिसोर्ट के परिसर में लगातार बजरंगदल द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए राहत कैंप खोला हुआ है ।जिसमें बजरंगियो द्वारा भोजन,पानी,नहाने,खाने,और आराम करने की संपूर्ण व्यवस्था लगातार कीजा रही है। यहां लगभग रोज दो हजार लोग भोजन करते हैं, और रास्ते में खाने के लिए जूस, बिस्किट ,भुना चना, और गुड़ भी साथ ले जाते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात में टीवी पर आकर लाकडाउन की घोषणा करते हुए समाज के गरीब तबके की मदद की बात कह तो दी,लेकिन कोई सरकारी कदम न उठते देखकर ही महानगरों से असंगठित क्षेत्र के लोग अपने गांवों की ओर भागने लगे।