चिंतित कोचिंग संचालको ने कमिश्नर ऑफिस पहुंचकर सौंपा ज्ञापन, शिक्षण संस्थानों का किराया माफ कराए जाने की मांग

चिंतित कोचिंग संचालको ने कमिश्नर ऑफिस पहुंचकर सौंपा ज्ञापन, शिक्षण संस्थानों का किराया माफ कराए जाने की मांग

कोविड-19 महामारी के चलते शैक्षणिक संस्थान एवं कोचिंग मार्च माह से लगातार बंद है जिसके कारण कोचिंग संचालकों को और महत्वपूर्ण परीक्षा की तैयारी में लगे हुए विद्यार्थियों को काफी परेशानी हो रही है| आज कोचिंग संचालकों के द्वारा कोचिंग तथा अन्य शैक्षिक संस्थानों द्वारा किराए पर लिए गए भवनों के किराए सहित बिजली भुगतान माफ करने के संबंध में कमिश्नर कार्यालय में ज्ञापन दिया गया|  दरअसल देश में लॉक डाउन होने की वजह से कोचिंग संस्थान लगातार बंद है| इसके बाद बिना आमदनी के कोचिंग संचालकों के ऊपर कोचिंग का किराया देने की भी चुनौती है| इस गंभीर आर्थिक हालात के मद्देनजर आज कोचिंग संचालकों के द्वारा कमिश्नर ऑफिस में ज्ञापन सौंपा गया जिसमें मांग की गई कि सभी शिक्षण संस्थानों का लॉक डाउन विधि में किराया माफ किया जाए| किराए के मकान लेकर अध्ययन करने वाले छात्रों को भी मकान के किराए में राहत दी जाए साथी ही शिकायत की गई कि कई मकान मालिकों के द्वारा किराए को लेकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है जिसमें राहत प्रदान की जाए और साथ ही रीवा में शिक्षण कार्य प्रारंभ करने के लिए अनुमति प्रदान की जाए|