सुदर्शन समाज महासंघ के द्वारा कोरोना फाइटर का किया गया सम्मान

सुदर्शन समाज महासंघ के द्वारा कोरोना फाइटर का किया गया सम्मान

भारतीय सुदर्शन महा समाज महासंघ रीवा के द्वारा संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय में सेवा दे रहे कोरोना फाइटर्स का सम्मान किया गया साथ ही सफाई कर्मियों को स्वच्छता सैनिक का दर्जा और नियमित नियुक्ति दिए जाने की मांग की। स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े हुए कोविड-19 के मरीजों के बीच स्वच्छता सैनिक के रूप में महज ₹6000 के ठेके में कार्य कर रहे कर्मचारियों ने देशभक्ति जन सेवा की मिसाल कायम की है ऐसा सुदर्शन समाज महासंघ रीवा का मानना है सफाई कर्मचारी कोरोना वारियर्स के रूप में वीर योद्धा की तरह डटे रहे है संगठन के द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों एवं सफाई कर्मियों में ठेके का प्रचलन का विरोध किया गया और कहा गया कि ठेका प्रथा चलने से हमारा शोषण हो रहा है और हम असहज महसूस कर रहे हैं इस महामारी में कोरोना वायरस के रूप में डॉक्टर, पुलिस एवं सफाई कर्मियों को मेहनत करनी पड़ी जो कि यह बेमिसाल है इन्हीं तमाम बातों के साथ संगठन के द्वारा स्वास्थ्य एवं सफाई कर्मियों का स्वागत किया