TamilNadu: तमिलनाडु में पॉलिटिक्स से शशिकला का संन्यास, क्या भाजपा है उनके संन्यास की वजह ?

TamilNadu: तमिलनाडु में पॉलिटिक्स से शशिकला का संन्यास,  क्या भाजपा है उनके संन्यास की वजह ?

तमिलनाडु में शशिकला के संन्यास की घोषणा के बाद कई समीकरण अचानक से बदल गए हैं। बुधवार को शशिकला ने अचानक राजनीति से संन्यास की घोषणा कर सबको चौंका दिया। शशिकला को संन्यास के लिए राजी करने में भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व की बड़ी भूमिका है, लेकिन राज्य के सियासी पंडित शशिकला के संन्यास की घोषणा को एक बड़े रणनीतिक कदम के रूप में देख रहे हैं।

शशिकला के जेल से बाहर आने के बाद उनकी पुरानी पार्टी AIADMK ने उनको पार्टी में वापस लेने से साफ मना कर दिया। इसके बाद शशिकला ने अन्नाद्रमुक के मौजूदा नेतृत्व के खिलाफ शक्ति प्रदर्शन भी किए थे।

जयललिता की सहयोगी और उनकी विरासत का दावेदार होने के अलावा शशिकला थेवर कम्युनिटी से आती हैं। यह पार्टी का पुराना वोट बैंक है और इस पर शशिकला की मजबूत पकड़ है। पार्टी में भी शशिकला के काफी समर्थक हैं

DMK को भी शशिकला के इस निर्णय से झटका लगा है। अगर शशिकला AIADMK की मौजूदा लीडरशिप का विरोध करतीं तो वोट बंट जाते और इसकी सीधा फायदा DMK को मिलता।