कोरोना की चपेट में आए प्रदेश के जनप्रतिनिधि

कोरोना की चपेट में आए प्रदेश के जनप्रतिनिधि

देश और दुनिया में कोरोना के बढ़ते हुए मामले हैरान करने वाले है, लेकिन अब प्रदेश में यह कोरोनावायरस जनप्रतिनिधियों को भी अपनी चपेट में ले रहा है। मध्य प्रदेश के बुरहानपुर से निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा को तो आप जानते ही होंगे| उन्हें बीते दिन  कोरोना का संक्रमण हुआ था और उनके बड़े भाई 10 दिन पहले ही  कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे| कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उनके बहु भतीजे और पोते की भी जांच कराई गई थी जिसके बाद विधायक शेरा के सगे संबंधी भी कोरोना पॉजिटिव निकले| इतना ही नहीं उज्जैन के वडनगर से कांग्रेस विधायक मुरली मोरवाल की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। हालांकि विधायक की आपत्ति के बाद स्वास्थ्य विभाग ने रिपोर्ट को डाउटफुल बताते हुए दोबारा जाँच के लिए सैंपल ले लिया हैं| कोरोना के बढ़ते हुए मामले और और लॉक डाउन में रियायत से बाजार में काफी भीड़ बढ़ने लगी है कहीं न कहीं चिंताजनक है| इसको देखते हुए गुना, अशोकनगर, विदिशा, सागर जिले में प्रशासन एक्शन लेते हुए बाजार को बंद करा दिया है| प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लॉकडाउन में छूट के बाद भी लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं| इसलिए अभी खतरा कम नहीं हुआ है आप सभी से लगातार हमारी सिर्फ एक ही अपील है कि आप सुरक्षित रहें मास्क का उपयोग करें सोशल डिस्टेंसिंग का जरूर ध्यान रखें और ज्यादा से ज्यादा हो सके तो घर में रहे धन्यवाद